बहराइच में जल्द होगा दिल्ली-मुंबई जैसा इलाज :योगी

बहराइच

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बहराइच आकांक्षात्मक जिले की श्रेणी से निकलकर विकसित जनपद की ओर बढ़ रहा है। डेढ़ महीने में दूसरी बार बहराइच पहुंचे योगी ने केडीसी चौराहे पर स्थापित महाराणा प्रताप की मूर्ति का अनावरण किया। अब यह चौराहा महाराणा प्रताप के नाम से जाना जाएगा। योगी ने 264 करोड़ की विभिन्न योजनाओं का शिलान्यास किया। इसके साथ ही 70 करोड़ की लागत से विभिन्न योजनाओं का लोकार्पण किया। उन्होंने विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र व किट भी प्रदान किया। 

प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को पूर्वाह्न बहराइच पहुंचे। उन्होंने सर्वप्रथम महाराणा प्रताप की मूर्ति का अनावरण किया। इसके बाद केडीसी मैदान स्थित पंडाल में जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि जिन महाराणा प्रताप की भव्य प्रतिमा का शनिवार को लोकार्पण हुआ है। उनका जन्म राजस्थान की धरती पर हुआ था। विदेशी आक्रान्ता भारत की धर्म और संस्कृति के साथ-साथ स्वाधीनता को रौंदने का काम रहे थे। उस कालखण्ड में महाराणा प्रताप ने राजस्थान की धरती से भारत की स्वाधीनता उस शौर्ययज्ञ में जो आहुति दी उसका आज हर भारतवासी कृतज्ञ है।

बहराइच का चित्तौरा नामक स्थान जहां विदेशी अक्रान्ताओं को मुंहतोड़ जवाब देते हुए महाराजा सुहेलदेव के नेतृत्व में हिन्दू राजाओं ने आक्रान्ताओं को धूल चटाया  उनका संहार किया था। चित्तौरा की वह भूमि पयागपुर के राजा ने ही प्रदेश सरकार को ट्रस्ट बनाने के लिए दी है जिस पर सुहेलदेव स्मारक बन रहा है, जो लंबे कालखण्ड तक भारतीय जनमानस को प्रेरणा प्रदान करता रहेगा। 

उन्होंने कहा कि यहां बाढ़ से बचाव, सड़क, बिजली व अन्य सामान्य नागरिक जीवन में खुशहाली लाने वाली योजनाएं शामिल हैं, जिन्हें आगे बढ़ाने के लिए केन्द्र व प्रदेश सरकार अनेक कार्यक्रम चला रही है। प्रदेश के 8 आकांक्षात्मक से विकसित जिले की ओर बढ़ रहे बहराइच आकांक्षात्मक जिलों में रहा है। प्रशासन व जनप्रतिनिधियों ने मिलकर जिले को तेजी से विकास के पथ पर आगे बढ़ाकर विकास प्रक्रिया का हिस्सा बनाया है। 

Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget