माफिया कुंटू सिंह की बढ़ी मुश्किलें

आजमगढ़

 उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ में डी-11 गैंग के सरगना माफिया कुंटू सिंह पर कार्रवाई जारी है। बुधवार को जहां माफिया कुंटू सिंह की ढाई करोड़ की भूमि को प्रशासन ने कुर्क किया। वहीं गुरूवार को माफिया के पॉलिटेक्निक कॉलेज की मान्यता फर्जी पाए जाने पर कुंटू सिंह की पत्नी वंदना सिंह व सचिव के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। 

डी-11 गैंग के सरगना ध्रुव सिंह उर्फ कुंटू सिंह का देउरपुर कमालपुर गांव में रूद्र प्रताप पॉलिटेक्निक कॉलेज है। कालेज ट्रस्ट के नाम पर है, जिसकी अध्यक्ष कुंटू सिंह की पत्नी वंदना सिंह है। वंदना सिंह अजमतगढ़ की निर्वतमान ब्लाक प्रमुख भी है। 18 मार्च को सावित्री बाई फूले राजकीय पालिटेक्निक कालेज, आजमगढ़ के प्रधानाचार्य इफ्तेखार अहमद द्वारा दिये गये प्रार्थना पत्र में जिलाधिकारी को अवगत कराया गया कि आजमगढ़ में निजी संस्थान रूद्र प्रताप पालीटेक्निक के प्रशासन द्वारा गहन जांचोपरांत फर्जी एवं कूटरचित अभिलेख पाये गये थे।

इस सम्बंध में जिलाधिकारी ने सावित्री बाई फुले राजकीय पॉलिटेक्निक, आजमगढ़ को निर्देशित किया था कि कॉलेज की ट्रस्टी/अध्यक्ष वंदना सिंह एवं सचिव शिव प्रकाश के विरूद्ध नियमानुसार प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज किया जाए। जिसके बाद पुलिस ने वंदना सिंह और शिव प्रकाश सिंह के खिलाफ फर्जी दस्तावेजों के सहारे धोखाधड़ी कर मान्यता लेने से सम्बन्धित धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।

एसपी सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि जांच के बाद यह बात सामने आयी कि फर्जी दस्तावेजों के सहारे कालेज की मान्यता ली गयी है। आज ट्रस्ट की अध्यक्ष वंदना सिंह और सचिव शिव प्रकाश सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा कि विवेचना के दौरान मैनेजमेंट कमेटी भी जांच के दायरे में है। वही जिन अधिकारियों और कर्मचारियों ने इसमें सहयोग किया है, उनके खिलाफ भी कार्रवाई की जायेगी।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget