योगी से मिले पश्चिमी यूपी के किसान

लखनऊ

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को लखनऊ स्थित अपने सरकारी आवास पर पश्चिमी उत्तर प्रदेश के किसानों के एक प्रतिनिधि मंडल से भेंट के दौरान कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने हमेशा किसानों को ध्यान में रखकर नीतियां बनायी है। उनके नेतृत्व में केन्द्र सरकार द्वारा लागू किये गये कृषि कानूनों का लाभ किसानों को मिलेगा। 

उन्होंने कहा कि कृषि कानूनों को किसानों की आय दोगुना करने के उद्देश्य से लागू किया गया है। इससे कृषकों की आय में निरन्तर वृद्धि होगी। प्रदेश सरकार किसानों के हितों से जुड़े कार्यक्रमों और योजनाओं को पूरी गम्भीरता से लागू कर रही है। यह इसी का नतीजा है कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के अन्तर्गत देश में सर्वोत्कृष्ट प्रदर्शन के लिये उत्तर प्रदेश को प्रथम पुरस्कार प्रदान किया गया है।  

किसान प्रतिनिधि मंडल के सदस्यों ने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा लागू किये गये कृषि कानून किसान हितैषी हैं। यह कानून किसानों को सशक्त करने का प्रयास हैं। इन कानूनों का सबसे ज्यादा लाभ छोटे और सीमान्त किसानों को मिलेगा। इसलिये वे इन कानूनों का समर्थन करते हैं। प्रधानमंत्री मोदी तथा मुख्यमंत्री योगी द्वारा कृषि एवं किसान कल्याण के लिये गम्भीरता से प्रयास किये जा रहे हैं।

इस प्रतिनिधि मंडल में शामिल किसानों ने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि सहित प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना आदि योजनाएं लागू की गई हैं। किसानों को फसल की उचित कीमत दिलाने के लिए लागत से डेढ़ गुना न्यूनतम समर्थन मूल्य निर्धारित किया गया। प्रदेश में एमएसपी के तहत प्रभावी ढंग से खरीद किये जाने से बड़ी संख्या में किसान लाभान्वित हो रहे हैं। मुख्यमंत्री योगी के नेतृत्व में राज्य सरकार पूरी प्रतिबद्धता से किसानों के हितों के लिये कार्य कर रही है। केन्द्र व राज्य सरकार के प्रयासों से किसानों के जीवन में व्यापक परिवर्तन हुआ है। 

प्रतिनिधि मंडल के सदस्यों ने कहा कि कुछ लोग किसान आन्दोलन के माध्यम से किसानों को भ्रमित करने का प्रयास कर रहे हैं। इससे आवागमन बाधित होता है और लोगों को असुविधा होती है। उन्होंने इस बात पर बल दिया कि किसी भी समस्या का समाधान मिल बैठकर संवाद के जरिये किया जा सकता है।

विधायक उमेश मलिक के नेतृत्व में आये इस प्रतिनिधिमण्डल में चौ. राजेन्द्र सिंह मलिक, चौ. सुभाष वालियान सर्वखाप मंत्री, चौ. राजवीर सिंह मलिक थाम्बेदार, चौ. हरवीर सिंह, चौ. राजपाल सिंह, चौ. फेरू सिंह, चौ. करन सिंह आिद सम्मिलित थे।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget