भाजपा के 130 कार्यकर्ताओं के बलिदान की होगी जीत : शाह

200 सीटें जीतकर बनाएंगे सरकार


नई दिल्ली

गृह मंत्री अमित शाह ने दावा किया है कि इस बार पश्चिम बंगाल में भाजपा 200 से ज्यादा सीटें जीत कर सरकार बनाएगी। उन्होंने ये भी कहा कि बंगाल में लोगों के साथ जिस तरह से अन्याय किया गया है उसका जवाब मिलने वाला है। शाह ने कहा कि बंगाल में पीएम मोदी जैसी लोकप्रियता उन्होंने इससे पहले कभी किसी नेता की नहीं देखी थी। बता दें कि बंगाल में अब तक पांच चरण के चुनाव हो चुके हैं। तीन दौर का मतदान अभी और बाकी है।

अमित शाह ने कहा कि आज मुझे बहुत आनंद हो रहा है कि मेरी पार्टी मजबूत होकर खड़ी है। मोदी जी के नेतृत्व में पूरा बंगाल परिवर्तन करने के लिए आमादा है और परिवर्तन होगा भी। साल 2017 से 2021 के सफर में 2019 का भी पड़ाव आता है। मुझे लगता है कि हमारे कार्यकर्ताओं ने परिश्रम की पराकाष्ठा की है। बंगाल की जनता को जिस तरीके से सप्रेस किया गया, अन्याय किया गया, एक तबके के मन में ये भावना हो गई कि हम सेकेंड ग्रेड नागरिक हैं। उसका जवाब उन्हें मिल गया है। मुझे पूरा विश्वास है कि 200 सीटों के साथ भाजपा सरकार बनाने जा रही है।

शाह के मुताबिक बंगाल के लोग ममता की तुष्टीकरण की राजनीति से बेहद परेशान हैं। उन्होंने कहा कि यहां का बड़ा तबका तुष्टीकरण से भी नाराज है। दुर्गा विसर्जन करना है तो क्यों हाईकोर्ट जाना पड़े, ये सारे सवाल मन में हैं। वोट बैंक की पॉलिटिक्स के चलते इसे नजरअंदाज किया जाता है। यहां के सारे लोग घुसपैठ से परेशान हैं, तुष्टीकरण के कारण सीएम हमारे नागरिकता कानून का विरोध कर रही हैं, अन्याय के खिलाफ उनको कौन रक्षा दे सकता हर किसी की आशा भाजपा से बंधी है।

शाह ने आगे बातचीत में कहा कि 2016 में चुनाव हारने के बाद से ही भाजपा ने यहां तैयारी शुरू कर दी थी। उन्होंने कहा कि पालिटिक्स ऑफ पोलराइजेशन, घुसपैठ से जनता नाराज है। पूरे बंगाल में ये है। हर जगह जाकर देखिए, ना रोड है, ना लाइट है, ना घरों में पीने का पानी पहुंचा है, हेल्थ का खाका बिखर गया है।

अमित शाह ने ममता के अर्धसैनिक बलों पर लगातार आरोप पर कहा कि उन्हें ये समझना चाहिए कि वो चुनाव में केंद्र सरकार के तहत काम नहीं करते हैं। बल्कि वो चुनाव आयोग के तहत काम करते है। जयश्री राम नारे के सवाल पर अमित शाह ने कहा कि मैं मानता हूं जय श्रीराम का नारा बंगाल में अन्याय के खिलाफ आवाज बुलंद करने वाला नारा है। इसको आप धर्म का नारा मत समझिए, ये नारा जनता ने बनाया है, ये भाजपा का नारा नहीं है। अमित शाह ने आगे कहा कि यहां जीतना उनकी कोई पर्सनल जीत नहीं होगी। उन्होंने कहा कि मैं भाजपा का कार्यकर्ता हूं, भाजपा की विचारधारा को देश की इंच इंच जमीन पर ले जाना, ये भाजपा की विजय होगी, 130 कार्यकर्ता के बलिदान की विजय होगी।



Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget