1.5 करोड़ का रहा स्कैलर का सबसे बड़ा पैकेज


नई दिल्ली

अग्रणी अपस्किलिंग प्लेटफॉर्म स्कैलर ने इस महीने अपने परिचालन के दो साल पूरे किये हैं। इस छोटी-सी अवधि में उसके राजस्व में 200% की वृद्धि हुई है और कर्मचारियों की संख्या तीन गुना बढ़ी है। इस स्टार्टअप की पेरेंट फर्म इंटरव्यूबिट फाइनेंशियल टाइम्स एशिया पेसिफिक हाई ग्रोथ कंपनीज 2021 की रैंकिंग में आई है, जो इस सूची में आए केवल दो भारतीय एडटेक स्टार्टअप्स में से एक है। इंटरव्यूबिट इस क्षेत्र की 500 उच्च-वृद्धि वाली अग्रणी कंपनियों की सबसे नई वार्षिक रैंकिंग में 97वें नंबर पर रही, जिनका संकलन एफटी ने निकेई एशिया और शोध प्रदाता स्टेटिस्टा के साथ भागीदारी में किया था। टेक प्रोफेशनल्स के लिये स्कैलर के एज्युकेशन प्रोग्राम स्कैलर अकैडमी ने उद्योग में धूम मचा रखी है। इस प्रोग्राम से ग्रेजुएट होने के बाद तीन साल से कम अनुभव वाले पेशेवरों की औसत सालाना आय 16.5 लाख हो गई, जबकि 3-7 साल के अनुभव वालों को 22.5 लाख रू. सालाना आय के रूप में मिले और अाठ साल से ज्यादा अनुभव वालों की सालाना आय औसतन 39.5 लाख रू. हुई। सीखने वालों में सबसे ज्यादा सैलेरी पैकेज 1.5 करोड़ रू. प्रतिवर्ष एक ग्लोबल टेक फर्म में रहा।  स्कैलर और इंटरव्यूबिट के को-फाउंडर अभिमन्यु सक्सेना ने कहा कि महामारी के प्रकोप से उत्पन्न चुनौतियों का सामना करने के बावजूद साल 2020 एड-टेक सेक्टर के लिये बड़े पैमाने पर और स्कैलर के लिये खासतौर पर बहुत आशाजनक रहा। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget