मुंबई पुलिस ने जब्त की रेमडेसिविर की 2200 शीशियां

remdesivir

मुंबई

देश अभी कोरोना जैसी महामारी के साथ-साथ जीवन रक्षक दवाइयों की कालाबाजारी से भी जूझ रहे है। पुलिस और संबंधित विभाग इसके लेकर सतर्क है। ऐसे लोगों को गिरफ्तार कर उनके मंसूबों पर पानी फेरा जा रहा है। महाराष्ट्र की राजधानी और देश की आर्थिक राजधानी में भी रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी के मामले सामने आए हैं। इसके खिलाफ कार्रवाई भी की गई है। पुलिस और खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफडीए) के अधिकारियों ने मुंबई में दो स्थानों पर छापेमारी करके निर्यातकों द्वारा जमा करके रखी गई रेमडेसिविर की 2,200 शीशियां बरामद की हैं। एक अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। कोविड-19 के गंभीर मरीजों के लिए आवश्यक मानी जाने वाली रेमडेसिविर के निर्यात पर केंद्र ने पिछले हफ्ते रोक लगा दी थी।

पुलिस तथा एफडीए के अधिकारियों ने एक सूचना के आधार पर सोमवार को उपनगर अंधेरी तथा दक्षिण मुंबई के न्यू मरीन लाइन्स में दो स्थानों पर छापे मारे थे। 

मुंबई पुलिस के प्रवक्ता एस चैतन्य ने एक वक्तव्य में बताया कि रेमडेसिविर की 2,000 शीशियां बरामद की गई हैं जो एक ही दवा कंपनी की हैं। इन्हें अंधेरी (पूर्व) के मरोल इलाके में एक निर्यातक के यहां से बरामद किया गया। उन्होंने बताया कि बाकी की 200 शीशियां न्यू मरीन लाइन्स इलाके में निर्यातक के एक अन्य परिसर से बरामद की गईं। अधिकारी ने बताया कि जब्त शीशियों को अस्पतालों को उपलब्ध करवाया है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget