कोरोना की दूसरी लहर से बिहार को होगा 6,222 करोड़ रुपए का आर्थिक नुकसान

पटना

कोरोना के बढ़ता संक्रमण  को लेकर बिहार और केंद्र सरकार दोनों परेशान है। सरकार आम जनमानस से घरों में रहने की अपील कर रही है तो इधर बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और राज्यसभा सांसद सुशील कुमार मोदी को इस बात की चिंता सता रही है कि कोरोना के इस दूसरी लहर का काफी बुरा असर बिहार की अर्थव्यवस्था राजकीय कोष पर पड़ेगा। सुशील मोदी के मुताबिक कोविड की दूसरी लहर के मुकाबले के लिए केंद्र और राज्य सरकारों को भारी वित्तीय बोझ उठाना होगा। दरअसल सुशील मोदी यह दावा एसबीआई के मुख्य आर्थिक सलाहकार सौम्य कांति घोष के आकलन के आधार पर कर रहे हैं। घोष के आकलन रिपोर्ट की मानें तो कर्फ्यू, आंशिक लॉकडाउन और आवाजाही पर रोक से जहां राज्यों को 1 लाख 50 हजार करोड़ का आर्थिक नुकसान उठाना पड़ेगा वहीं बिहार को करीब 6 हजार 222 करोड़ रुपए की क्षति होगी। 



Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget