वार्नर के लिए धोनी के धुरंधरों से निपटना नहीं होगा आसान


नई दिल्ली

पहला मैच गंवाने के बाद संगठित इकाई की तरह बेहतरीन प्रदर्शन करने वाली चेन्नई सुपर किंगस (सीएसके) की टीम इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में बुधवार को यहां सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ जीत के प्रबल दावेदार के रूप में शुरुआत करेगी। महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई वाली टीम ने पहला मैच गंवाने के बाद शानदार वापसी की। उसने लगातार चार मैच जीते हैं और अब उसे नये स्थल फिरोजशाह कोटला मैदान पर भी विजय अभियान जारी रखने की उम्मीद रहेगी।

तीन बाद के चैंपियन चेन्नई के लिये 2020 का सत्र अच्छा नहीं रहा था लेकिन इस बार टीम के अनुभवी खिलाड़ी उससे जुड़ गये हैं जो अपना प्रभाव छोड़ रहे हैं। आलराउंडर रविंद्र जडेजा ने सीएसके की जीत में अहम भूमिका निभायी है। जडेजा ने रविवार को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के खिलाफ आखिरी ओवर में 37 रन जोड़कर अकेले दम पर टीम को जीत दिलायी थी। उन्होंने बायें हाथ की अपनी सटीक गेंदबाजी से विकेट भी लिये और क्षेत्ररक्षण में भी अपना कमाल दिखाया।

सलामी बल्लेबाज रुतुराज गायकवाड़ और फाफ डुप्लेसिस अच्छी फार्म में है जबकि सुरेश रैना और अंबाती रायुडु से बड़ी पारियों की दरकार है। सीएसके के बल्लेबाज राशिद खान की चुनौती से वाकिफ होंगे लेकिन सनराइजर्स के बाकी गेंदबाज नहीं चल पा रहे हैं जो उसका कमजोर पक्ष है। सनराइजर्स अपने विदेशी खिलाड़ियों कप्तान डेविड वार्नर, सलामी बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टॉ, न्यूजीलैंड के दिग्गज केन विलियमसन और राशिद पर काफी निर्भर हैं। उसकी टीम में मौजूद भारतीय खिलाड़ियों का लचर प्रदर्शन उसके लिये चिंता का विषय है।

सनराइजर्स की बल्लेबाजी बहुत हद तक शीर्ष क्रम पर निर्भर है और चोटी के बल्लेबाजों के नहीं चल पाने पर टीम की कमजोरी खुलकर सामने आ जाती है। मध्यक्रम में भारतीय खिलाड़ी हैं जो नहीं चल पा रहे हैं और यदि सनराइजर्स को आगे बढ़ना है तो उसके टीम प्रबंधन को जल्द ही यह कमजोरी दूर करनी होगी।

वार्नर को भी जल्द से जल्द खराब फार्म से उबरना होगा। उन्हें सीएसके के तेज गेंदबाज दीपक चाहर के सामने टिककर खेलना होगा जो शुरू में विकेट हासिल करने में माहिर हैं। चाहर के अलावा जडेजा, अनुभवी इमरान ताहिर और सैम करेन भी सीएसके की तरफ से अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं।

सनराइजर्स के लिये गेंदबाजी का चिंता का विषय है। वह इस विभाग में राशिद पर निर्भर है लेकिन बाकी 16 ओवरों में विपक्षी टीम अच्छे रन बना सकती है। अनुभवी भुवनेश्वर कुमार निरंतर अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पा रहे हैं जबकि यार्कर विशेषज्ञ टी नटराजन के चोट के कारण हट जाने से टीम को झटका लगा है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget