कोरोना मरीजों के लिए उठे मदद के हाथ

रिलायंस इंडस्ट्रीज कोविड प्रभावित राज्यों को हर दिन 700 टन ऑक्सीजन देगी मुफ्त

oxyegen

मुंबई

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) कोविड प्रभावित राज्यों को रोजाना 700 टन ऑक्सीजन की सप्लाई करेगी। इसके लिए कंपनी गुजरात के जामनगर की अपनी रिफाइनरीज की मैन्युफैक्चरिंग क्षमता को अपग्रेड रही है। यह ऑक्सीजन राज्यों को मुफ्त दी जाएगी।

अन्य कंपनियां भी लगी हैं काम पर

रिलायंस के अलावा सरकारी तेल कंपनियां इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन, भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन भी अपनी रिफाइनरीज में इसी तरह से ऑक्सीजन को बनाने के लिए काम कर रही हैं। वे भी उन्हीं राज्यों को सप्लाई करेंगी, जहां कोरोना से हालात बुरे हैं। बता दें कि पिछले हफ्ते ही रिलायंस ने महाराष्ट्र को 100 टन ऑक्सीजन सप्लाई करने की बात कही थी।

सेल ने 33 हजार टन ऑक्सीजन सप्लाई किया

देश की सबसे बड़ी स्टील निर्माता कंपनी स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया यानी सेल अब तक 33 हजार टन ऑक्सीजन की सप्लाई कर चुकी है। कंपनी ने कहा है कि इस ऑक्सीजन का इस्तेमाल कोरोना से प्रभावित मरीजों के इलाज के लिए हुआ है। सेल ने कहा कि इस ऑक्सीजन की सप्लाई बोकारो (झारखंड), भिलाई (छत्तीसगढ़), राउरकेला (ओडिशा), दुर्गापुर और बुर्नपुर (पश्चिम बंगाल) के स्टील प्लांटों से की गई है।

आर्सेलर मित्तल निप्पोन स्टील इंडिया ने कहा है कि वह रोजाना 200 टन मेडिकल ऑक्सीजन की सप्लाई कर रही है। यह ऑक्सीजन गुजरात की हेल्थ एजेंसियों को दी जा रही है। AMNS इंडिया के CEO दिलीप ओम्मान ने एक सोशल मीडिया पोस्ट में कहा कि अपनी सामाजिक प्रतिबद्धता के तहत हम सभी एजेंसियों के साथ खड़े हैं।

टाटा ने भी शुरू की ऑक्सीजन सप्लाई 

उधर दूसरी ओर टाटा ग्रुप की स्टील कंपनी टाटा स्टील ने रविवार को एक सोशल मीडिया पोस्ट में कहा कि राष्ट्र की आवश्यकता को देखते हुए हमने ऑक्सीजन की सप्लाई शुरू कर दी है। कंपनी ने कहा कि हम रोजाना 200-300 टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन की सप्लाई कर रहे हैं। यह सप्लाई विभिन्न राज्य सरकारों और अस्पतालों में की जा रही है। कंपनी ने कहा कि हम इस लड़ाई में एकजुट हैं और निश्चित तौर पर इसमें जीतेंगे।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget