बंगाल में बवाल के बीच बंपर वोटिंग

ममता बोलीं- चुनाव के दिन रैली कैसे कर सकते हैं मोदी?   
शुभेंदु का वारः पश्चिम बंगाल में जंगल राज

voting

कोलकाता

पश्चिम बंगाल और असम की 69 सीटों पर गुरुवार को दूसरे फेज के चुनाव के लिए बंपर वोटिंग हुई। बंगाल में हिंसा और बवाल की कुछ घटनाओं और बूथ कैप्चरिंग के आरोपों के बीच 80% से ज्यादा लोगों ने वोट डाले। चुनाव आयोग के मुताबिक, शाम 6 बजे तक बंगाल में 80.43% और असम में 76.37% मतदान हुआ है। बंगाल में पहले फेज में 79.79% और असम में 72.14% वोटिंग हुई थी।

राजनीतिक हत्या, प्रत्याशियों पर हमले, सियासी दलों में संघर्ष, बूथों में गड़बड़ी, मतदाताओं व पोलिंग एजेंटों को डराने-धमकाने व मारने-पीटने, लोगों को प्रभावित करने के लिए रुपये बांटने जैसी घटनाओं के बीच गुरुवार को बंगाल के चार जिलों पूर्व व पश्चिम मेदिनीपुर, बांकुड़ा व दक्षिण 24 परगना की 30 सीटों पर शाम पांच बजे तक कुल 80.43 फीसद मतदान हुआ। बांकुड़ा में 82.78 फीसद, पश्चिम मेदिनीपुर में 78.05 फीसद, पूर्व मेदिनीपुर में 81.23 फीसद और दक्षिण 24 परगना में 79.66 फीसद वोट पड़े। दूसरे चरण की सबसे हाट सीट नंदीग्राम में शाम पांच बजे तक 80.79 फीसद मतदान हुआ। 2016 के चुनाव में यहां कुल 87.48 फीसद वोट पड़े थे। गौरतलब है कि यहां से भाजपा नेता सुवेंदु अधिकारी का मुकाबला मुख्यमंत्री व तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी से है।

चुनाव में कांटे की टक्कर के बीच ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह पर बड़े आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि PM मोदी चुनाव वाले दिन पश्चिम बंगाल में चुनाव प्रचार कैसे कर सकते हैं? ममता ने आरोप लगाया कि अमित शाह सीधे केंद्र के भेजे सुरक्षाकर्मियों को आदेश दे रहे हैं। ये चुनावी आचार संहिता का उल्लंघन है। ममता ने कहा कि उत्तर प्रदेश और बिहार से आए लोग माहौल खराब कर रहें हैं। बाहरी गुंडे वोटिंग प्रभावित कर रहे हैं। चुनाव आयोग (EC) से कई बार शिकायत की गई, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। उन्होंने मामले में दखल देने के लिए राज्यपाल से भी बात की और केंद्रीय बलों की शिकायत की। उन्होंने कहा कि अगर चुनाव आयोग ने कार्रवाई नहीं की तो कोर्ट जाऊंगी।

ममता के इन आरोपों की हवा तब निकल गई जब नंदीग्राम से भाजपा प्रत्याशी शुभेंदु अधिकारी की कार पर टीएमसी कार्यकर्ताओं ने जमकर पत्थरबाजी की। इस दौरान मीडिया से जुड़े कई लोग घायल हो गए। शुभेंदु ने कहा की पश्चिम बंगाल में जंगल राज है। कुछ बूथों पर भाजपा समर्थकों को वोटिंग करने से रोका गया। ॓शुभेंदु ने आरोप लगाया कि यह पाकिस्तानियों का काम है। जय बंगला बांग्लादेश का नारा है। कुछ बूथ पर एक विशेष समुदाय के मतदाता हैं, जो ऐसा कर रहे हैं।

पश्चिम बंगाल में हमेशा से देश भर से ज्यादा वोटिंग प्रतिशत रहने का इतिहास रहा है। नंदीग्राम का महासंग्राम ममता बनर्जी के लिए कितना अहम है, इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि ममता बनर्जी दिन भर वॉर रूम में रहीं और वहां से निकलीं तो खेला करने के अंदाज में एक बूथ के सामने बैठ गईं। इस दौरान दोनों पार्टी के कार्यकर्ता आमने-सामने हो गए जिन्हें नियंत्रित करने के लिए सुरक्षाबलों को घंटों पसीना बहाना पड़ा।  


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget