प्रियंका का किस्सा

priyanka chopra

प्रियंका चोपड़ा इंटरनैशनल आइकॉन बन चुकी है। हालांकि हॉलीवुड में पैर जमाना इतना आसान भी नहीं था। प्रियंका चोपड़ा कबीर बेदी के मेमॉयर 'स्टोरीज आई मस्ट टेल' के लांच पर उनके साथ वीडियो कॉल पर थीं। दोनों ने अपने हॉलीवुड सफर पर बातचीत की। इस दौरान प्रियंका ने बताया कि लोग शुरुआत में उनका नाम तक ठीक से नहीं ले पाते थे।

कबीर बेदी ने  बॉलीवुड हंगामा के वीडियो में बताया कि उन दिनों हॉलीवुड में इंडियन या एशियन ऐक्टर्स के लिए रोल नहीं लिखे जाते थे। अमेरिकन ऑडियन्स को जो विदेशी लगे वही रोल लेना पड़ता था। कबीर ने बताया कि उन्होंने इंडियन, मोरक्कन और कई विदेशी किरदार निभाए। कबीर बेदी ने बताया कि उन दिनों बेन किंग्सले को कृष्णा भानजी से बदलकर अपना नाम बेन किंग्सले करना पड़ा था ताकि उन्हें लोग सीरियली लें और रोल मिलें।

आज प्रियंका चोपड़ा को अमेरिका में सफल होने के लिए अपना नाम नहीं बदलना पड़ता। इस पर प्रियंका बोलती हैं, मैं आपको बताती हूं। जब मैंने अमेरिका जाकर काम करने का फैसला लिया तो मुझे अपना नाम नहीं बदलना पड़ा लेकिन मुझे लोगों को बताना पड़ा कि मेरा नाम कैसे लेना है। हर को मुझे प्रियंका 'शापरा-शापरा' बुलाता था। मैंने बताया कि शापरा नहीं। अगर आप ओपरा बोल सकते हैं तो चोपड़ा भी बोल सकते हैं। यह इतना कठिन भी नहीं है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget