मोदी का एलान-ए-जंग

सांसों को बचाने की लड़ाई   ऑक्सीजन सप्लाई में रेलवे और वायुसेना ने झोंकी ताकत

modi

नई दिल्ली

कोविड-19 के खिलाफ लोगों की जान बचाने के लिए चिकित्सीय ऑक्सीजन को लेकर मचे हाहाकार के बीच मोदी सरकार ने कमर कस कर इस महामारी को परास्त करने का प्रण कर लिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि ऑक्सीजन टैंकरों के परिवहन में लगने वाले समय को कम करने के लिये रेलवे और वायु सेना की मदद ली जा रही है। उन्होंने सभी राज्यों से साथ मिलकर काम करने और जीवन रक्षक दवाइयों और ऑक्सीजन संबंधित जरूरतों को पूरा करने के लिए एक-दूसरे से सहयोग करने का आग्रह किया। कोरोना के खिलाफ लड़ाई में राज्यों को पूरे सहयोग का आश्वासन देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि यदि हम ‘‘एक राष्ट्र’’ के रूप में काम करेंगे तो संसाधनों का कोई अभाव नहीं होगा।

कोविड-19 की ताजा लहर में सबसे अधिक प्रभावित 10 राज्यों और केंद्र शासित दिल्ली के मुख्यमंत्रियों के साथ चर्चा कर महामारी की मौजूदा स्थिति की समीक्षा करने के दौरान प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना की पहली लहर के दौरान संयुक्त प्रयासों और संयुक्त रणनीति से भारत ने संक्रमण से सफलता पाई थी और इसी सिद्धांत पर काम करते हुए ताजा लहर से भी मुकाबला किया जा सकता है। 

बैठक के बाद पीएमओ की ओर से जारी एक बयान के मुताबिक मोदी ने कहा कि वायरस इस बार कई राज्यों के साथ ही टीयर-2 और टीयर-3 शहरों को प्रभावित कर रहा है। ऑक्सीजन की आपूर्ति के बारे में राज्यों की ओर से उठाए गए मुद्दों पर प्रधानमंत्री ने कहा कि इसकी आपूर्ति बढ़ाए जाने को लेकर लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि सभी संबंधित विभाग और मंत्रालय इस दिशा में मिलकर काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि औद्योगिक इस्तेमाल में आने वाले ऑक्सीजन का भी चिकित्सीय ऑक्सीजन की जरूरतों के लिए उपयोग किया जा रहा है। प्रधानमंत्री ने सभी राज्यों से विभिन्न अस्पतालों तक ऑक्सीजन की आपूर्ति निर्बाध गति से पहुंचाने के लिए एक उच्च स्तरीय समन्वय समिति गठित करने का आग्रह किया। प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार को अग्रणी ऑक्सीजन निर्माताओं के साथ बैठक की। इस बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने बेहद कम समय में ऑक्‍सीजन का उत्पादन बढ़ाने के लिए ऑक्सीजन उत्पादकों की सराहना की। यही नहीं, प्रधानमंत्री ने देश में चिकित्सा आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए औद्योगिक ऑक्सीजन को मेडिकल ऑक्‍सीजन में बदलने के लिए भी उद्योगों की तारीफ की।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget