राज्य में वीकेंड लॉकडाउन शुरू

शुरू रहेंगी अतिआवश्यक सेवाएं । घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं

lockdown

मुंबई 

राज्य में वीकेंड लॉकडाउन शुरू हो गया है। यह लॉकडाउन शुक्रवार रात 8 बजे से सोमवार सुबह 7 बजे तक चलेगा। इस दौरान अति आवश्यक सेवाओं शुरू रहेंगी। सब्जी मार्केट खुले रहेंगे और सड़कों पर रिक्शा, टैक्सी और बसें भी चलेंगी, लेकिन रिक्शा में केवल दो सवारी और टैक्सी 50 फीसदी क्षमता से चल सकेंगी। अत्यावश्यक सेवाओं को छोड़कर निजी वाहनों को सड़क पर उतरने की अनुमति नहीं होगी।

इधर शुक्रवार को सरकार ने पिछले सप्ताह ब्रेक द चेन अभियान के तहत जारी नियमावली में कुछ बदलाव किए हैं। नए आदेशों के तहत सुपर मार्केट गैराज को खोलने की अनुमति होगी, जबकि शराब की दुकानें बंद रहेंगी, लेकिन बार से शराब खरीदकर घर ले जाने की अनुमति होगी। कोई भी व्यक्ति बिना किसी वजह से बाहर नहीं घूम सकेगा।

आरटीपीसीआर जरूरी नहीं, करा सकेंगे एंटीजन टेस्ट

नए आदेश के मुताबिक अब तक कोरोना टीका न लगवाने वाले सार्वजनिक परिवहन, निजी परिवहन, फिल्मस, सीरियल, विज्ञापन की शूटिंग, होम डिलिवरी करने वाले कर्मचारियों, खाद्य पदार्थ बेंचने वालों, कर्मचारियों, मजदूरों, समेत जिन लोगों के लिए 15 दिन तक वैध रहने वाला आरटीपीसीआर टेस्ट कराने की अनिवार्यता थी, अब वे रैपिड एंटीजन टेस्ट करा सकेंगे। इसके अलावा आपले सरकार सेवा केंद्र, सेतु, सीएससी सेंटर, सेतु केंद्र, पासपोर्ट सेवा केंद्र आदि जो सरकारी सेवाओं के लिए एकल खिड़की सुविधा प्रदान करते हैं, उनके कार्यालय सोमवार से शुक्रवार तक सुबह 7 बजे से रात आठ बजे तक खुले रह सकते हैं। समाचार पत्रों में मैग्जीन, जर्नल और पाक्षिकों को भी शामिल किया गया है।

राजनीतिक पार्टियों के कार्यालय रहेंगे बंद

वीकेंड लाकडॉउन के दौरान सभी राजनीतिक कार्यालय भी बंद रहेंगे। मंत्रालय के नजदीक शिवालय पहले से एक सप्ताह के लिए बंद कर दिया गया है। 

अब शनिवार और रविवार को भाजपा, राकांपा, कांग्रेस सहित सभी पार्टियों के दफ्तर बंद रहेंगे।


क्या खुलेगा, क्या रहेगा बंद..

  • सुपर मार्केट मसलन डी मार्ट, बिग बाजार, रिलायंस और आवश्यक सामग्री बेचने वाले संस्थान सुबह 7 से शाम 8 बजे तक खुले रहेंगे, लेकिन उन्हें नियमों का पालन करना होगा। लेकिन ऐसे संस्थान जहां विविध सामग्री मिलती हैं और जो अत्यावश्यक आइटम में शामिल नहीं होंते, वे बंद रहेंगे।  
  • अत्यावश्यक सेवा में जो भी गतिविधियां आती हैं, वे शुरू रहेंगी। कोई भी व्यक्ति बिना किसी वजह से बाहर नहीं घूम सकेगा। अत्यावश्यक सेवाओं के लिए ही लोग घर से बाहर निकल सकते हैं।
  • एपीएमसी मार्केट खुले रहेंगे, लेकिन यदि स्थानीय निकाय को लगेगा कि उनके खुलने से कोराना का संक्रमण बढ़ सकता है तो वे उसे राज्य सरकार की अनुमति लेकर बंद करा सकेंगे।
  • निर्माण कार्य सामग्री की दुकानें बंद होंगी। गैराज खुले रहेंगे, लेकिन स्पेयर पार्ट्स की दुकानें बंद रहेंगी। गैरेज में नियमों का उल्लंघन करने पर उसे भी बंद कराया जा सकता है।
  • शराब की दुकानें पूरी तरह बंद रहेंगी और उन्हें होम डिलिवरी की अनुमति नहीं होगी। आम लोगों को बार से शराब खरीदकर घर ले जाने की अनुमति होगी, लेकिन वे वहां बैठकर शराब नहीं पी सकेंगे।
  • रोड साइड ढाबा खुले रहेंगे। खाद्य सामग्री खरीदकर घर ले जाने की सुविधा मिलेगी।  
  • इलेक्ट्रिक होम एप्लाइसेंस, कंप्यूटर, लैपटॉप, मोबाइल फोन की दुकानें बंद रहेगी।
  • सप्ताहांत के दौरान रेस्टारेंट को स्थानीय अधिकारियों के जरिए मिले आदेश का पालन करना होगा। सुबह सात बजे से रात आठ बजे तक ग्राहक खुद जाकर पार्सल ले सकते हैं। इसके बाद केवल ई-कॉमर्स के जरिए होम डिलिवरी की इजाजत होगी।  
  • सभी केंद्रीय कर्मचारी और पब्लिक सेक्टर यूनिट में काम करने वालों को अत्यावश्यक सेवा में शामिल नहीं किया गया है। जिस क्षेत्र में वे काम करते हैं अगर वे अत्यावश्यक सेवा में शामिल हैं, तभी उन्हें छूट मिलेगी।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget