मुख्‍यमंत्री से मं‌त्रियों ने की लॉकडाउन लगाने की मांग

आज रात आठ बजे घोषणा संभव 

lockdown

मुंबई

महाराष्ट्र में बेकाबू होते कोरोना के मद्देनजर राज्य सरकार अब टोटल लॉकडाउन की तैयारी में है। मंगलवार को कैबिनेट की बैठक में लगभग सभी मंत्रियों ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से राज्य में टोटल लॉकडाउन लगाने को कहा। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे बुधवार रात 8 बजे इसका ऐलान कर सकते हैं। संक्रमण को देखते हुए राज्य में 10वीं की परीक्षा रद्द कर दी गई है। शिक्षा मंत्री वर्षा गायकवाड़ ने यह जानकारी दी।

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा, 'कल रात 8 बजे के बाद मुख्यमंत्री लॉकडाउन के बारे में घोषणा करेंगे। वे स्वयं इसके बारे में निर्णय लेंगे। जैसे यूनाइटेड किंगडम ने 3 महीने तक फुल लॉकडाउन रखा और बड़े पैमाने पर वैक्सीनेशन किया, हमारी तैयारी भी कुछ ऐसी ही है। हमने वैक्सीन इंपोर्ट करने का निर्णय भी लिया है। इनमें स्पूतनिक, फाइजर और मॉडर्ना शामिल हैं।'

टोपे ने कहा, 'हमारी पहली प्राथमिकता वैक्सीनेशन होगी। इसलिए अगर जरूरत पड़ी तो हम बाकी कामों को रोककर इसके फंड का इस्तेमाल वैक्सीनेशन के लिए करेंगे। हमारा उद्देश्य 18 से 45 साल के लोगों को ज्यादा से ज्यादा वैक्सीनेट करना है, क्योंकि यह सभी बाहर घूमते हैं और संक्रमण का खतरा इनसे ज्यादा होता है। हम यह मांग करते हैं कि केंद्र सरकार जो भी वैक्सीन दे रही है, उसे ज्यादा संख्या में हमें दिया जाए।'

ऑक्सीजन की कमी से परेशान राज्य सरकार

राजेश टोपे ने कहा, ' महाराष्ट्र में ऑक्सीजन की खपत भी बहुत ज्यादा है। वर्तमान समय में 1500 मीट्रिक टन ऑक्सीजन लग रही है, लेकिन आने वाले समय में यह संख्या 2000 मीट्रिक टन तक पहुंच जाएगी। पड़ोस के राज्यों से हम 300 मीट्रिक टन ऑक्सीजन मंगा जरूर रहे हैं, लेकिन कई सारी दिक्कतें हैं। कैबिनेट की बैठक में ऑक्सीजन जनरेटर लगाने का निर्णय लिया गया है। इसके लिए हमने हर कलेक्टर को अपने जिले में एक या दो प्लांट्स बनाने के लिए कहा है।'

एकनाथ शिंदे ने आज से ही लॉकडाउन की बात कही थी

कैबिनेट की बैठक के बाद बाहर निकले मंत्री असलम शेख ने कहा था, ‘ऑक्सीजन की कमी के चलते महाराष्ट्र संपूर्ण लॉकडाउन की ओर बढ़ रहा है। जल्द ही इसका ऐलान होगा और इसकी गाइडलाइन भी जारी होगी।’ एकनाथ शिंदे ने भी कहा, ‘मंत्रिमंडल के सभी सदस्यों ने आज (मंगलवार) रात 8 बजे से संपूर्ण लॉकडाउन लगाने का आग्रह मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से किया है। इस पर अंतिम निर्णय उन्हीं को लेना है।’

चार घंटे खुलेंगी किराना सब्जी-फल की दुकानें

राज्य में कोविड-19 का प्रसार रोकने के लिए सरकार ने कड़े प्रतिबंध लगाए हैं। कोरोना के बढ़ते प्रसार को देखते हुए प्रतिबंधों में कुछ फेरबदल किए गए हैं।  प्रतिबंधों में फेरबदल के अनुसार अब राज्य में किराना, सब्जी और फल, डेयरी, बेकरी और मिठाई की दुकानें केवल सुबह 7 बजे से लेकर 11 बजे तक चार घंटे के लिए ही खुली रहेंगी।

इसी तरह चिकन, मटन, मुर्गी, मांस, अंड़ा समेत सभी खाद्य पदार्थों की दुकानें, कृषि औजार व कृषि उत्पादन, पालतू प्राणियों के खाद्य सामग्री की दुकानें, मानसून से संबंधित सामग्री की दुकानें (व्यक्तिगत और संगठनात्मक) इसी चार घंटे की अवधि में खोली जा सकेंगी। राज्य सरकार ने ब्रेक द चेन के तहत मंगलवार को कुछ नई पाबंदियों का एलान किया। राज्य के मुख्य सचिव सीताराम कुंटे ने इस संबंध में आदेश जारी किया है। यह आदेश 20 अप्रैल से एख मई तक लागू रहेगा।

होम डिलीवरी की सुविधा

किराना, सब्जी, फल समेत उक्त सभी दुकानों को सुबह 7 बजे से लेकर रात 8 बजे तक होम डिलीवरी सेवा देने की अनुमति होगी, लेकिन जरूरी होने पर इसमें स्थानीय प्रशासन समय में फेरबदल कर सकता है। इसके अलावा स्थानीय आपदा प्रबंधन प्रशासन कुछ गतिविधियों और सेवाओं को राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की सहमति से आवश्यक सेवाओं के रूप में घोषित कर सकता है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget