सही पोजिशन में आएगी सुकून भरी नींद

sleep

रात में 7-8 घंटे की सुकूनभरी नींद आ जाए तो पूरा दिन फ्रेश रहता है और अगर रात को अच्छी नींद ना आए तो अगला दिन चिड़चिड़ाहट में जाता है। अच्छी नींद का संबंध फिजिकल और मेंटल हेल्थ से भी है। ऐसे में सोने की सही पोजिशन और कुछ दूसरी आदतें आपको अच्छी नींद दिलाने में मददगार साबित हो सकती है।

अच्छी नींद स्वस्थ शरीर की निशानी है। ज्यादातर लोग रात में 6-8 घंटे की नींद लेते हैं लेकिन कुछ लोगों को गहरी नींद नहीं आती। खराब नींद की वजह से सुबह उठने के बाद फ्रेश और खुश महसूस नहीं करते हैं। अगर नींद की क्वालिटी अच्छी नहीं है या रातभर करवट बदलते रहते हैं तो ये आगे चलकर गंभीर समस्या हो सकती है। लंबे टाइम तक नींद की कमी और अच्छी नींद न लेने से आपको कई तरह की शारीरिक और मानसिक परेशानियां हो सकती हैं।

साउंड स्लीप के लिए जरूरी है कि आप सही पोजिशन में सोएं। वैसे तो रात में सभी लोग कई बार करवट बदलते हैं लेकिन फिर भी जरूरी है कि आप सही पोजिशन में सोने की कोशिश करें। 

आज हम आपको बताएंगे तीन स्लीपिंग पोजिशन और उनके फायदे-नुकसान

करवट से सोना सबसे अच्छा

सोने के लिए सबसे अच्छी पोजिशन लेफ्ट करवट से सोना है। ये पोजीशन आपके हार्ट के लिए भी बेहतर है और इससे आपके शरीर में दर्द होने की संभावना भी बहुत कम होती है। प्रेग्नेंट लेडीज को भी बाईं करवट से सोने की सलाह दी जाती है और ये पोजिशन मां और बच्चे दोनों के लिए हेल्दी मानी जाती है। वैसे ज्यादातर लोग रातभर लेफ्ट और राइट दोनों करवट लेकर सोते हैं लेकिन लेफ्ट साइड से सोने में ब्लड सर्कुलेशन अच्छा रहता है। करवट लेकर सोने से सोने में खर्राटे भी कम आते है। इसलिए करवट लेकर सोना अच्छी नींद के लिए बेहतर माना जाता है।

सीधे पीठ के बल सोना

पीठ के बल सोने में ज्यादा आराम नहीं रहता है। इसीलिए बहुत कम लोग पीठ के बल सोते हैं। हालांकि रात में सोने में कई बार लोग पीठ के बल भी सो जाते हैं। पीठ के बल सोने में रीढ़ की हड्डी को सपोर्ट मिलता है, इसलिए इस पोजीशन में सोने से आपको गले का दर्द नहीं होता, पाचन अच्छा रहता है। साथ ही मोटे पेट वाले इस पोजिशन में कंफर्टेबल फील करते हैं लेकिन इस पोजीशन में सोने वालों की नींद ज्यादा खुलती है और खर्राटों की समस्या भी रहती है।

उल्टा होकर पेट के बल सोना

पेट के बल सोने को बेबी पोज भी कहते हैं लेकिन ये पोशिजन छोटे बच्चों के लिए ठीक है। बड़े लोगों को इस तरह सोने में आराम नहीं पड़ता। हालांकि जिन लोगों को अनिद्रा की समस्या होती है, उन्हें इस पोजीशन में सोने से थोड़ा लाभ मिल सकता है। इसके अलावा अगर किसी खास दिन आपके सीने में थोड़ी जलन है, तो भी आपके लिए इस पोजीशन में सोना बेहतर है।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget