कोरोना काल में शेयर बाजार के निवेशक मालामाल

 संपत्ति में 90.82 लाख करोड़ की भारी वृद्धि


नई दिल्ली

कोरोना काल में शेयर बाजार में पैसा लगाने वाले निवेशक मालामाल हो गए। घरेलू शेयर बाजार में शेयरों का भाव बढ़ने से निवेशकों की संपत्ति में वित्त वर्ष 2020-21 में 90,82,057.95 करोड़ रुपये की वृद्धि हुई। इस दौरान बीएसई के 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स में 68 फीसद की वृद्धि हुई।

इस अभूतपूर्व तेजी के दौर में सेंसेक्स 20,040.66 अंक या 68 फीसद लाभ में रहा। कोविड-19 महामारी की वजह से घरेलू और वाह्य आर्थिक जगत में विभिन्न व्यवधानों और अनिश्चितताओं के बावजूद स्थानीय शेयर बाजार जबरदस्त तेजी में रहा। बाजार विश्लेषकों ने वर्ष 2020-21 को, न केवल भारतीय बाजारों के लिए बल्कि वैश्विक स्तर पर इक्विटी सूचकांकों के लिए एक भारी उतार-चढ़ाव वाला दौर करार दिया। इस दौरान शुरु में स्थानीय बाजार गिरावट चल रही थी।

वित्तवर्ष के उत्तरार्ध में बाजार में फिर से तेजी लौटी है और निवेशकों को भारी लाभ हुआ।  वित्त वर्ष 2020-21 में बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों का शेयर-मूल्य के आधार पर कुल मूल्यांकन 90,82,057.95 करोड़ रुपये बढ़कर 2,04,30,814.54 करोड़ रुपये तक पहुंच गया। इस साल तीन मार्च को, बीएसई-सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार मूल्य 2,10,22,227.13 करोड़ रुपये के अब तक के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया था।

जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज में मुख्य निवेश रणनीतिकार, वी के विजयकुमार ने कहा, '' कोविड की रोकथाम के लिए लागू सार्वजनिक प्रतिबंधों को उत्तरोत्तर हटाए जाने और अर्थव्यवस्था में तेजी लौटने के साथ तेजड़ियों का उत्साह बढ़ा। टीकों की खोज और उससे जगी उम्मीद ने तेजड़ियों के उत्साह को और हवा दी। वैश्विक स्तर पर, नवंबर में बाजारों में भारी तेजी देखी गई। उभरते हुए बाजारों में विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) के निवेश की बाढ़ सी आ गयी।

बीएसई30 सेंसेक्स बुधवार को वित्तीय वर्ष 2020-21 के आखिरी दिन 627.43 अंक या 1.25 फीसद घटकर 49,509.15 अंक पर बंद हुआ। निवेशकों ने वर्ष 2020-21 में उतार चढ़ाव की एक विस्तृत श्रृंखला देखी।  इस वित्त वर्ष में सेंसेक्स ने रिकॉर्ड ऊंचाई को छुआ।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget