तीसरी लहर से निपटने के लिए तैयारी शुरू: परब

मुंबई

राज्य के परिवहन मंत्री अनिल परब ने कहा कि देश के अन्य राज्यों और रेलवे समेत अन्य मार्गों के जरिए आने वाली ऑक्सीजन को राज्य के अलग-अलग ठिकानों तक पहुंचाने के लिए ग्रीन कॉरिडोर बनाया जाएगा। इसके जरिए ग्रामीण इलाकों तक ऑक्सीजन की सुचारु आपूर्ति की जाएगी।

उन्होंने कहा कि राज्य में ऑक्सीजन की कमी है, ऐसे में सरकार विभिन्न राज्यों से ऑक्सीजन लाने के इंतजाम कर रही है। अन्य राज्यों से महाराष्ट्र में ऑक्सीजन लाने की व्यवस्था परिवहन विभाग कर रहा है। परब ने कहा कि मिनी लॉकडाउन के कारण एसटी के ड्राइवर अपने गांवों चले गए हैं, ऐसे में परिवहन विभाग की ओर से नए ड्राइवर तैयार किए जा रहे हैं। इन ड्राइवरों की आवश्यकता अनुसार सेवाएं ली जाएगी। परब ने कहा कि विश्व में कई जगहों पर कोरोना की तीसरी लहर नजर आ रही है, इसलिए महाराष्ट्र में तीसरी लहर से निपटने के लिए अभी तैयारी की जा रही है। उन्होंने कहा कि मिनी लॉकडाउन के कारण एसटी की बसों को नुकसान हो रहा है, लेकिन पिछले साल परिवहन विभाग ने 104 प्रतिशत राजस्व प्राप्ति की थी। परब ने कहा कि फिलहाल एसटी की बस सेवा महाराष्ट्र के पड़ोसी राज्यों के लिए बंद है। सड़क मार्ग से आने यात्रियों के लिए एसओपी  

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने राजस्थान, गुजरात, केरल, गोवा, उत्तराखंड और दिल्ली व राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) को संवेदनशील प्रदेश घोषित किया है। अब सड़क मार्ग से महाराष्ट्र में आने वाले लोगों के लिए भी मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) जारी की जाएगी। इस संबंध में जल्द बैठक बुलाकर सख्त नियम बनाने का फैसला लिया जाएगा।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget