जिसने जेल भिजवाया, वही पढ़ रहा लालू के नाम का चालीसा : सुशील मोदी

पटना

दुमका कोषागार से अवैध निकासी के मामले में रविवार को रांची हाईकोर्ट ने राष्ट्रीय जनता दल (राजद) सुप्रीमो को को जमानत दे दी है। जेल से लालू के निकलने का रास्ता साफ होते ही बिहार में राजनीति गर्म हो गई है। पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने सोमवार को ट्वीट कर कहा कि शिवानंद तिवारी ने चारा घोटाला में लालू प्रसाद को जेल भिजवाया, लेकिन जब लालू प्रसाद की मेहरबानी से उन्हेंं संंगठन में बड़ा पद और बेटे को विधायक बनवाने में सफलता मिल गई, तब संन्यास तोड़ लालू चालीसा पढ़ रहे हैं। वे राज्यसभा का टिकट पाने के लिए कभी नीतीश कुमार तो कभी लालू प्रसाद के समर्थक बनते रहे, लेकिन भरोसेमंद किसी के नहीं हुए। 

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से राज्यसभा सदस्य मोदी ने कहा कि शिवानंद तिवारी में यदि समाजवाद को लेकर ईमानदारी बची होती, तो उन्होंने बेनामी संपति के आरोपी तेजस्वी यादव का बचाव न किया होता। वे रघुवंश प्रसाद सिंह की तरह ऊंची जाति के गरीबों को 10 फीसद आरक्षण देने के एनडीए सरकार के फैसले का समर्थन करते। जिनकी राजनीति न सिद्धांत के प्रति निष्ठावान रही, न पार्टी नेतृत्व के प्रति, वे दूसरों पर टिप्पणी कर रहे हैं।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget