मुख्यमंत्री ने बुलाई सर्वदलीय बैठक

uddhav thackerray

मुंबई 

पिछले साल वह हमारी जिंदगी में एक अजनबी की तरह घुस आया था। लॉकडाउन ने हमें ढेर सारे जख्म दिए, हैरान किया और फिर जुदा भी हो गया। अब वह एक बार फिर दस्तक देने जा रहा है। सूबे की सरकार ने पिछले सप्ताह ही वीकेंड लॉकडाउन लगाने की घोषणा की थी, अब तीन सप्ताह के कठोर लॉकडाउन की बातें सामने आ रही हैं। सख्त लॉकडाउन को लेकर मुख्यमंत्री ने शनिवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई है, जिसमें कोई ठोस फैसला होने की उम्मीद है।

विजय वडेट्टीवार ने रखी मांग

ब्रेक द चेन अभियान के तहत लगाए गए कड़े प्रतिबंधों के खिलाफ व्यापारी पहले से बागी हो उठे हैं और उन्होंने सोमवार से अपनी दुकानें खोलने का ऐलान कर दिया है। वे प्रतिबंधों में ढील देने की मांग कर रहे हैं, लेकिन सरकार की तरफ से राहत मिलती नहीं दिख रही है। इस बीच राहत और पुनर्वास मंत्री विजय वडेट्टीवार ने तीन हफ्ते के कठोर लॉकडाउन के संकेत दिए हैं। उन्होंने कहा कि वीकेंड लॉकडाउन बेहद जरूरी है। रोगियों की तादाद जिस तरीके से बढ़ रही है, उसे देखकर लग रहा है कि राज्य में यह आंकड़ा 10 लाख तक पहुंच सकता है। ऐसे हालात बने तो सख्त लॉकडाउन लगाना ही होगा। उन्होंने कहा कि स्थिति को संभालने की कितनी भी कोशिश की जाए, तब भी मैनपॉवर कम पड़ जाएगा। ऐसे में उन्होंने एमपीएसी की परीक्षा को लेकर आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री से तीन सप्ताह का कठोर लॉकडाउन लगाने की मांग की है। 

उल्लेखनीय है कि राज्य में कोरोना बहुत तेजी से फैल रहा है जिससे सरकार के सामने बहुत ही कम विकल्प रह गए हैं।

लोकल के सफर पर लगेगा प्रतिबंध ! 

वडेट्टीवार ने बताया कि इस बैठक के दौरान विधानपरिषद में विपक्ष के नेता प्रवीण दरेकर ने विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फड़नवीस और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल को शनिवार की बैठक में  बुलाया गया है। वडेट्टीवार ने कहा कि कुछ व्यापारी बोल रहे हैं कि सोमवार से दुकान खोलेंगे। इसलिए सरकार को अब ठोस फैसला लेने की जरूरत है। वडेट्टीवार ने कहा कि मुंबई की उपनगरीय लोकल ट्रेन में यात्रियों के सफर के लिए कुछ प्रतिबंध लगाने के बारे में भी बैठक में चर्चा होगी।

लॉकडाउन की तरफ बढ़ रहा महाराष्ट्रः टोपे

स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि वे तुरंत लॉकडाउन लगाने के पक्ष में नहीं हैं, लेकिन हम लॉकडाउन की ओर बढ़ रहे हैं। कोरोना की चेन को तोड़ने के लिए 15 दिन अथवा तीन सप्ताह तक लॉकडाउन की जरूरत है, क्योंकि कोरोना के मरीजों की संख्या कम नहीं रही है। ऐसे में लॉकडाउन ही एक मात्र विकल्प है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget