देश की संस्कृति का हमने सदा रखा ख्याल : सुरेंद्र पाल

surendra pal

पिछले तीन दशक से फिल्म इंडस्ट्रीज में फिल्मों, धारावाहिक में सक्रिय और बेहतरीन अभिनव निभाने वाले टीवी की दुनिया के सबसे बड़े धारावाहिक ‘महाभारत‘ के द्रोणाचार्य और शक्तिमान के तमराज किलविश अभिनेता सुरेंद्र पाल का कहना है कि कोरोना महामारी के कारण फिल्म इंडस्ट्रीज को भारी नुकसान हुआ है। कोरोना के लिए जारी दिशा-निर्देश का सही ढंग से पालन नहीं किया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में इस महामारी से निपटने के लिए बढ़िया काम हो रहा है। भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्रीज में बहुत सुधार की आवश्यकता है। ऐसे अन्य मुद्दों पर हमारा महानगर से हुई बातचीत के कुछ अंश-

कोरोना महामारी से निपटने के लिए जारी दिशा-निर्देश का पालन करना बेहद आवश्यक 

यूूपी के नवाबो का शहर लखनऊ में साल 1953 में जन्म लेेेने और साल 1984 में फिल्म इंडस्ट्रीज में अपने कैरियर की शुरुआत करने वाले अभिनेता सुरेंद्र पाल ने कहा कि 35 साल के अपने कैरियर में हमने ऐसी महामारी कभी नहीं देखी। इस कोरोना के कारण कितने लोगों की जान जा रही है। इसमें कई हमारे साथियों को भी कोरोना महामारी ने हमसे जुदा कर दिया है। मुंबई सहित पूरे देश में बड़ी संख्या में ऐसे लोग हैं जो कोरोना के नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं। पुलिस प्रशासन की सख्ती पर उनसे लड़ने के लिए खड़े हो जा रहे हैं। मैं उनसे कहना चाहूंगा कि इस महामारी को नजर अंदाज न करते हुए उन्हें दिशा-निर्देश का पालन करना चाहिए। मेरे जीवन में पहली बार ऐसा हुआ है। फिल्म इंडस्ट्रीज एक ऐसी इंडस्ट्रीज है जो करोड़ों जनता का मनोरंजन करती है। टीवी और मोबाइल के माध्यम से लोग अपने पसंदीदा फिल्मों और धारावाहिक को देखते हैं। लेकिन पिछले डेढ़ साल से महामारी के प्रकोप के कारण मुंबई में दोबारा लॉकडाउन लगा हुआ है। फिल्मों और धारावाहिकों की शूटिंग बंद पड़ी हुई है। फिल्मों की शूटिंग बंद होने से बड़ी संख्या में बेरोजगारी बढ़ गई है। यह एक ऐसी इंडस्ट्रीज है जहां 10 फीसदी अभिनेताओं को छोड़ दिया जाए तो बाकी के 90 फीसदी फिल्म लाइन में काम करने वाले लोग रोज कुआं खोदते हैं और रोज पानी पीते हैं। ऐसी परिस्थिति में उनकी मदद होनी चाहिए। 

कोरोना महामारी के कारण 1200 करोड़ से अधिक फिल्म उद्योग का हुआ नुकसान 

कोरोना महामारी के कारण पिछले डेढ़ साल से फिल्मों और धारावाहिक की शूटिंग बंद पड़ी हुई है। जिसके कारण 1200 करोड़ रुपए से अधिक फिल्म उद्योग को नुकसान हुआ है। कुछ फिल्मों की वेब सीरीज बन रही है, लेकिन वो सिनेमाघरों में नहीं दिखाई जा पा रही है। क्योंकि लॉकडाउन के कारण सभी सिनेमाघर बंद हैं। फिल्म इंडस्ट्रीज से आने वाले राजस्व का बड़ा हिस्सा सरकार को जाता है।

कोरोना ने बहुत कुछ सिखा दिया 

कोरोना महामारी से बहुत कुछ सीखने को मिला। इस दौरान लोगों के रिश्ते और आर्थिक बचत कैसे करना चाहिए यह बात कोरोना काल के दौरान सीखने को मिली है।

फिल्म लाइन में आकर बेहद संतुष्ट 

बचपन से सामाजिक कार्यों में मेरी रुचि थी। हमने उसी समय निर्णय ले लिया था, हमें फिल्म लाइन में जाना है। शुरुआत में इस लाइन से बिल्कुल अज्ञान था, लेकिन बाद में धीरे-धीरे सारी जानकारी मिली और मुझे यह कहने में कोई संकोच नहीं की फिल्म लाइन में आकर मैं बहुत संतुष्ट हूं। जनता ने जो प्यार-सम्मान दिया है उससे अपने आपको मैं बहुत भाग्यशाली समझता हूं।

हमने ऐसी फिल्मों और धारावाहिक में काम नहीं किया, जो परिवार के साथ देखने में आए लज्जा

साल 1984 से कैरियर की शुरुआत करते हुए मैं अब तक 200 हिंदी, 50 से अधिक भोजपुरी फिल्मों और धारावाहिक के लिए 10 हजार एपिसोड में काम कर चुका हूं। इसमें दुनिया के सबसे बड़े धारावाहिक महाभारत में द्रोणाचार्य, शक्तिमान में तमराज किलविश जैसी भूमिका शामिल है। भारत की संस्कृति को देखते हुए हमने कभी ऐसी फिल्मों और धारावाहिक में काम नहीं किया जो परिवार के साथ देखने में शर्म महसूस हो और अटपटा लगे। जिसके लिए मैं और मेरा परिवार गर्व महसूस करता है।

भोजपुरी फिल्मों में बड़ी सुधार की जरूरत  

जिस प्रकार हिंदी भाषी समाज की संस्कृति रही है मौजूदा समय में उसके विपरीत भोजपुरी फिल्में बन रही हैं। साल 1986 में हमने भोजपुरी फिल्म में कदम रखा था। उस समय 20 लाख की बजट में बनी फिल्म ने रिकॉर्ड तोड़ते हुए 20 करोड़ से अधिक की कमाई की थी। अपनी पहली फिल्म से हमारी मांग रही है कि भोजपुरी फिल्मों में परिवर्तन होना चाहिए। आज कल जो फिल्में बन रही हैं उसे समाज परिवार के साथ बैठकर नहीं देख सकता, इसलिए मेरा मानना है कि भोजपुरी फिल्मों में बड़ा परिवर्तन करने की जरूरत है। 

राजनीति में कभी नहीं आऊंगा 

सामाजिक कार्य से हमारा हमेशा जुड़ाव रहा है। लेकिन राजनीति से दूर रहना चाहता हूं। मैं फिल्म लाइन में बहुत खुश हूं, इसलिए हमने तय किया है कि मैं राजनीति में कभी नहीं आऊंगा। क्योंकि फिल्म लाइन में आकर मुझे और कुछ अच्छा ही नहीं लगता मैं चाहता हूं कि मैं कितना और अच्छा किरदार निभाऊं की जनता का मुझे और प्यार-सम्मान मिले।

आने वाले दिनों में कई फिल्मों और धारावाहिक में आऊंगा नजर 

कोरोना महामारी के कारण पिछले डेढ़ साल से फिल्मों और धारावाहिक की शूटिंग बंद पड़ी हुई है, लेकिन आने वाले दिनों में मुझे नए फिल्म और धारावाहिक में जनता देख पाएगी। जिसकी शूटिंग हैदराबाद और गोवा में शूरू होने वाली है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget