पाकिस्तानी संसद बनी जंग का मैदान

pakistan assembly

इस्लामाबाद

पाकिस्तान में फ्रांसीसी राजदूत के निष्कासन को लेकर बुलाए गए संसद के विशेष सत्र में सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच जमकर विवाद हुआ। मामला यहां तक बढ़ गया कि शांत स्वभाव के माने जाने वाले पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी ने स्पीकर असद कैसर को जूतों से मारने की धमकी दे दी, जिसके बाद सत्ता पक्ष के सांसदों ने भी जोरदार हंगामा किया। विवाद थमता न देखकर स्पीकर ने सदन की कार्यवाही को शुक्रवार तक के लिए स्थगित कर दिया।

इस्लाम का रहनुमा बनने की कोशिश में सभी पार्टियां

दरअसल पूरा मामला पाकिस्तानी राजनीतिक दलों में इस्लाम के सबसे बड़े रहनुमा बनने की कोशिश करने के दौरान हुआ। पाकिस्तान की सत्तारूढ़ तहरीक-ए-इंसाफ के सांसद अमजद अली खान ने संसद में फ्रांसीसी राजदूत को निष्कासित करने के लिए प्रस्ताव पेश किया। उन्होंने इस मामले पर चर्चा करने के लिए एक विशेष संसदीय समिति के गठन का भी अनुरोध किया, जिसके बाद पीटीआई के ही संसदीय मामलों के मंत्री अली मुहम्मद खान ने समिति के गठन के लिए एक दूसरा प्रस्ताव पेश किया।

अब्बासी के इस मांग को स्पीकर ने सिरे से खारिज कर दिया, जिसके बाद पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री आग-बबूला हो गए। 

उन्होंने संसद की वेल में पहुंचकर तेज आवाज में विरोध करना शुरू कर दिया। जब स्पीकर ने उन्हें पास बुलाया तो अब्बासी बिगड़ गए। उन्होंने स्पीकर से कहा कि आपको शर्म नहीं आती? जूते उतारकर मारूंगा, जिसके बाद स्पीकर ने कहा कि आप अपने हद में रहें।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget