गोरखपुर से गिरफ्तार हुआ मनसे नेता का हत्यारा

ठाणे

राबोड़ी इलाके में हुए मनसे के नेता की हत्या के आरोप में गोरखपुर एसटीएफ यूनिट ने एक आऱोपी को लखनऊ से गिरफ्तार किया है, जबकि दूसरा आरोपी फरार है। जानकारी के मुताबिक हत्या की सुपारी दी गई थी और सुपारी देने वाला एनसीपी का नगरसेवक नजीब मुल्ला है। यूपी  एसटीएफ द्वारा दी गई जानकारी के मुंताबिक हत्या की सुपारी दस लाख में ली गई थी, जिसमें से दो लाख आरोपियों को मिलने वाले थे। मामला 23 नवंबर का है। जब दो लोग मोटरसायकिल पर सवार होकर राबोड़ी के मस्जिद के पास गए। जैसे ही पीड़ित जमील शेख मस्जिद से बाहर निकाला आरोपियों ने ताबड़तोड़ फायरिंग उस पर शुरू कर दी और फरार हो गए। पीड़ित व्यक्ति महाराष्ट्र नव निर्माण सेना का वार्ड अध्यक्ष था, जिसका नाम जमील शेख था। जमील की हत्या के आरोप में पुलिस ने शूटर इरफान सोनू शेख मंसूरी उर्फ राजधनिया को गिरफ्तार कर लिया है।  पूछताछ करने पर उसने ओसामा नाम के व्यक्ति को बताया कि वह गोरखपुर इलाके का रहने वाला है, इरफान से उसकी पहचान शाहिद नाम के व्यक्ति के घर हुई थी। जहां उसे शाहिद ने जमील की हत्या करने का प्लान बनाया था। आरोपियों ने बताया कि जमील को मारने के लिए दो लाख रुपए की सुपारी दी गई। इरफान अपने दुसरे मित्र शाहिद को लेकर हत्या करने के लिए निकला। सबसे पहले दोनों ने जाकर अपना शर्ट बदला। इसके बाद मोटरसायकिल पर बैठकर राबोड़ी के मस्जिद के पास पहुंच गए। जहां पर जमील का इंतजार कर रहे थे। जैसे ही जमील आगे निकल आरोपी ने उस पर गोली बरसा दी अौर वहां से फरार हो गए। मामले की जांच ठाणे पुलिस और अपराध शाखा द्वारा की जा रही थी। इसबीच गोरखपुर एसटीएफ यूनिट को इरफान के लखनऊ में होने की जानकारी मिली। जिसके बाद वहां पर जाल बिछाया गया और झील चौराहा के पास जैसे ही आरोपी पहुंचा उसे दबोच लिया गया। हिरासत में लेकर जब एसटीएफ ने पूछताछ की तो उसने बताया कि उसी ने हत्या की सुपारी ली थी और एनसीपी के नगरसेवक नजीब मुल्ला ने जमील को मारने की सुपारी दी थी। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget