सरसों तेल और रिफाइंड ने बिगाड़ा किचन का बजट


नई दिल्ली

कोरोना की मार से धीरे-धीरे उबर रहे आम आदमी की कमर को महंगाई ने तोड़ दी है। चावल-दाल हो या आटा, सरसों तेल हो या सोयाबीन का तेल या फिर चाय हो या नमक, एक साल में इनकी कीमतें इतनी बढ़ गई हैं कि किचन का बजट गड़बड़ा गया है। उपभोक्ता मंत्रालय की वेबसाइट पर दिए गए आंकड़ों के मुताबिक एक अप्रैल 2020 के मुकाबले एक अप्रैल 2021 को खाद्य तेलों की कीमतों में 47 फीसद, दालों में 17 फीसद और खुली चाय में 30 फीसद तक उछाल आ चुका है। वहीं चावल के रेट में 14.65 फीसद, गेहूं के आटे में 3.26 फीसद की बढ़ोतरी हुई है। अगर कोई चीज सस्ती हुई है तो गेहूं, चीनी, आलू, प्याज और टमाटर।

खाद्य तेलों की कीमतों में लगी आग

एक साल में खाद्य तेलों की कीमतों में ऐसी आग लगी कि सरसों तेल से महंगा रिफाइंड आयल हो गया। पैक पाम तेल 87 रुपये से उछलकर करीब 121रुपये, सूरजमुखी तेल 106 से 157,  वनस्पति तेल 88 से 121 और सरसों का तेल (पैक) 117 से 151 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया है। वहीं मूंगफली 139 से 165 और सोया तेल 99 से 133 रुपये लीटर पर पहुंच गया है।  

चाय, दूध और नमक के भी बढ़े भाव

पिछले साल के मुकाबले इस साल चाय की कीमतों में भारी इजाफा हुआ है। खुली चाय 29 फीसद चढ़कर 217 से 281 रुपये किलो पहुंच गई है। चीनी जहां मामूली रूप से सस्ती हुई है तो वहीं गुड़ के भाव थोड़े बढ़े हैं। सबसे कम यूज होने वाले नमक के भाव भी इस एक साल में 10 फीसद बढ़ चुका है। वहीं दूध भी 7 फीसद महंगा हो चुका है। उपभोक्ता मंत्रालयप पर दिए गए ये आंकड़े देशभर के 135 खुदरो केंद्रों में से 111 केंद्रों से जुटाए गए हैं।

दालों ने भी तरेरी आंखें

अगर दालों की बात करें तो मंत्रालय की वेबसाइट पर दिए गए ताजा आंकड़ों के मुताबिक अरहर यानी तूअर की दाल औसतन 91 रुपये किलो से करीब 106 रुपये , उड़द दाल 99 से 109,  मसूर की दाल 68 से 80 रुपये प्रति किलो पर पहुंच चुकी है। मूंग दाल भी 103 से 105 रुपये किलो पर पहुंच गई है।

आलू-प्याज और टमाटर पोछ रहे आंसू

कभी आम जनता को महंगाई का आंसू रुलाने वाले आलू-प्याज और टमाटर ही राहत दे रहे हैं। यूं कहें कि आलू-प्याज और टमाटर ही अब महंगाई के आंसू पोछ रहे हैं। इस एक साल में आलू का औसत खुदरा मूल्य 34 फीसद गिरकर 27 से 17 पर आ गया है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget