पालघर साधु हत्याकांड : जांच सीबीआई को दी जाए

tushar bhosale

मुंबई

भाजपा ने पालघर में हुई साधुओं की हत्या की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है। भाजपा अध्यात्मिक आघाड़ी के संयोजक आचार्य तुषार भोसले ने कहा कि पालघर में साधुओं की हत्या को हुए एक साल बीत चुका है, लेकिन राज्य सरकार जांच करने में सफल नहीं हुई है। राज्य सरकार की मामले के आरोपियों को पकड़ने की कोई इच्छा नहीं है, ऐसे में यह जांच केंद्रीय खुफिया एजेंसी या राष्ट्रीय जांच एजेंसी को सौंपनी चाहिए।  

यहां आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में आचार्य भोसले ने कहा कि ठाकरे सरकार हत्याकांड के सूत्रधारों को पकड़ने के बजाय उन्हें बचाने का बार-बार प्रयास कर रही है। यह कई बार सिद्ध हो चुका है कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने हिंदुत्व को तिलांजलि देकर मुख्यमंत्री पद हासिल किया है। साधुओं की हत्या की जांच सीआईडी को सौंपकर आधे अधूरे आरोप पत्र दाखिल किए गए हैं। भोसले ने कहा कि इस मामले में राकांपा नेता काशीनाथ चौधरी के शामिल होने के प्रथम दृष्टया सबूत मिले थे, लेकिन सीआईडी ने उनसे पूछताछ नहीं की।      

बता दें कि पालघर के गड़चिंचले गांव में 16 अप्रैल 2020 को भीड़ ने जूना अखाड़े के दो साधुओं महंत सुशील गिरी महाराज (35 वर्ष), महंत महाराज कल्पवृक्ष गिरी (65 वर्ष) और ड्राइवर निलेश तेलगडे (30 वर्ष) की पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। इस मामले में सीआईडी ने दहाणु कोर्ट में दो अलग-अलग चार्जशीट दाखिल की है। सीआईडी ने 126 लोगों के खिलाफ पहली चार्जशीट 4995 पन्नों की जबकि 5921 पन्नों की दूसरी चार्जशीट अदालत में दाखिल की। मामले में अब तक 165 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget