दिल्ली भी जीतना चाहती हैं ममता


कोलकाता
 

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी ने हुगली के देबानंदपुर में एक बार फिर हुंकार भरी। उन्होंने कहा कि वह एक पैर से बंगाल जीतेंगी और भविष्य में दोनों पैरों से दिल्ली जीतेंगी। दरअसल, हाल ही में ममता बनर्जी ने सभी विपक्षी पार्टियों को लेटर लिख एकजुट होने के लिए कहा था। उन्होंने राष्ट्रीय स्तर के गैर भाजपा नेताओं को पत्र लिखकर केंद्र की भाजपा सरकार की कथित जनविरोधी नीतियों के खिलाफ एकजुट होकर संयुक्त रूप से लड़ने का आह्वान किया था।

बनर्जी ने सोनिया गांधी, शरद पवार, एमके स्टालिन, अखिलेश यादव, तेजस्वी यादव, उद्धव ठाकरे, हेमंत सोरेन, अरविंद केजरीवाल, नवीन पटनायक, जगन रेड्डी, केएस रेड्डी, फारूक अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती और दीपांकर भट्टाचार्य को पत्र लिखकर समर्थन मांगा है। उनके इस कदम को उनके भीतर हार के अंदेशे की वजह से पनपी निराशा के तौर पर देखा जा रहा था। लेकिन ममता बनर्जी ने कहा कि मैं नंदीग्राम जीत रही हूं, यहां मुझे कोई हरा नहीं सकता। याद दिला दें कि 10 मार्च को नंदीग्राम में चुनाव प्रचार के दौरान ममता बनर्जी को चोट लग गई थी। इस चोट को ममता बनर्जी ने हमला करार देते हुए षड्यंत्र की तरफ इशारा किया था। हालांकि विपक्षी दलों की तरफ से लगातार इसे ममता बनर्जी द्वारा सहानुभूति बटोरने की कोशिश बताया जा रहा है। हाल में ममता का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ। इसमें वह पैर हिलाती हुई दिख रही हैं। इस वीडियो के वायरल होने के बाद भाजपा ने एक बार फिर तृणमूल कांग्रेस पर सहानुभूति बटोरने का आरोप लगाया। वहीं टीएमसी की तरफ से कहा गया कि भाजपा को महिलाओं का सम्मान करना सीखना चाहिए। गौरतलब है कि आज प‌िश्‍चम  बंगाल में तीसरे चरण की वोटिंग होनी है। तृणमूल कांग्रेस और भाजपा दोनों ने ही चुनाव प्रचार में पूरी ताकत झोंकी हुई है। एक तरफ टीएमसी पूर्ण बहुमत की सरकार के दावे कर रही है तो दूसरी तरफ भाजपा 200 सीटों का दावा कर रही है। आज प. बंगाल में तीसरे चरण के चुनाव होंगे। इसके साथ ही अन्य सभी चुनावी राज्यों में मतदान संपन्न हो जाएगा। 


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget