पत्नी को मरा समझ कर फेंका, पुलिस बनी तारणहार

ठाणे

'जाको राखे साइयां मारि सकै न कोय' की कहावत उस वक्त चरितार्थ हो गई जब एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी पर जानलेवा हमला कर उसे मरा समझ कर फेंक दिया था, लेकिन रास्ते से गुजर रहे लोगों की तत्परता से उसकी जान बच गई। महिला को मुंबई-नासिक राजमार्ग पर फेंक दिया गया था। 

जानकारी के अनुसार रात करीब 10.45 बजे राजमार्ग के धमानगांव में सड़क पर महिला पड़ी थी और उसके गले से खून बह रहा था। वहां से गुजर रहे लोगों ने वाडा पुलिस चौकी को इसकी जानकारी दी। भिवंडी पुलिस तत्काल मौके पर पहुंची और उसे अस्पताल में भर्ती कराया। घायल महिला की पहचान रुखसाना पठान के रूप में हुई है, जो  पति के साथ झगड़े के बाद अपने बच्चे के साथ माता-पिता के घर रहती थी। पुलिस के अनुसार महिला के पति ने अपने एक सहयोगी की मदद से उसके गले पर वार किया था। उन दोनों ने महिला को मरा हुआ समझ राजमार्ग पर फेंक दिया था। अभी तक दोनों आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई है।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget