पीएम मोदी से कहा- ज्यादा टीकाकरण से ही जीतेंगे 'जंग'

manmohan singh

नई दिल्ली

देशभर में कोरोना संक्रमण ने कोहराम मचा रखा है। हर रोज नए मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। अस्पतालों में बेड्स और ऑक्सीजन कम पड़ने लगी है। वहीं कोरोना टीके   भी कम  पड़ने लगे हैं।  इसी बीच पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है। पत्र में उन्होंने लिखा कि कोविड के खिलाफ हमारी लड़ाई एक राष्ट्रीय चुनौती है। हमें टीकाकरण पर ज्यादा जोर देने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि वैक्सीनेशन के नंबरों के बजाए कितनी फीसदी आबादी का टीकाकरण किया गया है, इस पर ध्यान देना चाहिए। 

मनमोहन सिंह ने पत्र में लिखा कि पिछले एक साल से भारत समेत पूरी दुनिया कोरोना महामारी की चपेट में है। महामारी ने हजारों लोगों की नौकरियां छीन ली, लाखों लोगों को गरीबीरेखा में लाकर खड़ा कर दिया। शहरों में रह रहे बच्चों से मिलने के लिए माता-पिता तरस रहे हैं । दादा-दादी ने अपने पोते-पोतियों को नहीं देखा है। एक साल से शिक्षकों ने अपने बच्चों को क्लासरूम में नहीं देखा। लोग हैरान और परेशान हैं। सबके मन में एक ही सवाल है कि आखिर उनका जीवन कबतक सामान्य होगा। कोरोना से लड़ने के लिए हमें कई चीजों पर ध्यान देने की आवश्यकता है, लेकिन इस प्रयास का एक बड़ा हिस्सा टीकाकरण अभियान को तेज करना होगा। मुझे आशा है कि मेरे सुझावों पर अमल होगा।

 स्वदेशी वैक्सीन की सप्लाई सीमित है। ऐसे में यूरोपियन मेडिकल एजेंसी और USFDA जैसी विश्वसनीय एजेंसियों ने जिन वैक्सीन को अप्रूवल दिया है, उन्हें घरेलू ट्रायल जैसी शर्त के बिना मंगवाया जाए। मुझे लगता है कि इमरजेंसी के हालात को देखकर एक्सपर्ट भी इसे जायज ही मानेंगे। ये सहूलियत निश्चित समयसीमा के लिए ही होगी, जिसके भीतर भारत में ब्रिज ट्रायल पूरे कर लिए जाएंगे।

 जिन लोगों को ये वैक्सीन लगवाई जाए, उन्हें भी इस संबंध में जानकारी दी जाए कि इन्हें विदेश में विश्वसनीय एजेंसियों ने अप्रूवल दिया है।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget