1500 ऑक्सीजन प्लांट का निर्माण

प्रकल्प के पास ही बनेंगे कोविड सेंटर

oxygen plant

नई दिल्ली

स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा देश में 1500 ऑक्सीजन प्लांट लगाने का काम चल रहा है. सोमवार को स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जानकारी दी गई कि ऑक्सीजन प्लांट के नजदीक ही कोविड सेंटर्स तैयार किए जाएंगे, जिससे ऑक्सीजन की समस्या पर स्थाई रूप से काम किया जा सके. मंत्रालय के अनुसार देश में सबसे ज्यादा ऑक्सीजन पूर्वी हिस्सों में बनती है लेकिन अभी सबसे ज्यादा जरूरत उत्तर और मध्य हिस्से में है. सामान्य तौर पर ये ऑक्सीजन टैंकर के जरिए पहुंचाई जाती थी, जिसमें काफी समय लगता था. समय को कम करने के लिए सरकार वायुसेना की मदद से खाली टैंकर्स को पहुंचा रही है. फिर भरे हुए टैंकर्स ऑक्सीजन एक्सप्रेस के जरिए भेजे जा रहे हैं क्योंकि भरे हुए टैंकर्स तकनीकी कारणों से एयरलिफ्ट नहीं किया जा सकता.

राज्यों की मांग के हिसाब से आपूर्ति

पिछले दो सप्ताह से राज्यों को मांग के अनुसार ऑक्सीजन की आपूर्ति की जा रही है. किसी की मांग को अनदेखा नहीं किया जा रहा है. खास बात ये है कि ऑक्सीजन की मांग बढ़ गई है इसलिए टैंकर्स की संख्या बढ़ाई जा रही है. साथ ही साथ विदेश से टैंकर्स मंगाए जा रहे हैं. इसके अलावा देश में भी मैन्यूफैक्चरिंग बढ़ाई जा रही हैं.

जीपीएस सिस्टम का इस्तेमाल

अब टैंकर्स की जीपीएस ट्रैकिंग भी जा रही है. इसके जरिए ऑक्सीजन को वक्त से पहुंचाने में मदद मिल रही है. गृह मंत्रालय ने आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत आदेश दिए हैं कि सभी राज्यों में ऑक्सीजन टैंकर्स को बेरोकटोक चलने दिया जाए।


Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget