कोविड-19 के संकट में संकटमोचक बने सांसद रवि किशन


गोरखपुर

वैश्विक महामारी कोरोना में पिछले साल से अब तक सांसद रवि किशन शुक्ला ने सराहनीय कार्य किया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दिशा निर्देशों के अनुरूप सर्व जन हिताय सेवा कार्य कर रहे हैं. अभिनेता से नेता बने सांसद रवि किशन फिल्म की तरह राजनीति में भी सितारा बन कर उभरे हैं. वैश्विक महामारी में प्रधानमंत्री के आदर्शों पर चलते हुए संकट में सेवा के मंत्र पर कार्य कर रहे हैं. मोदी के नेतृत्व का मुरीद हो चुके विश्व समुदाय ने खुलकर भारत के साथ सहयोग बढ़ाया है. वर्तमान महामारी के बीच गोरखपुर के भाजपा सांसद रवि किशन शुक्ला जनता की अपेक्षाओं पर शत प्रतिशत खरा उतर रहे हैं। रवि किशन का मानना है कि सेवक हो तो मोदी जैसा। सांसद रवि किशन ने कोरोना काल में जनसेवा द्वारा पूरे देश के अंदर अपनी एक अलग पहचान बनाई हैl उनका मानना है कि संकट में गोरखपुर में बनाया गया एम्स लोगों के लिए एक बरदान साबित हो रहा है. सांसद के पहल पर एम्स में कोविड वार्ड की शुरुआत हो रही है. वर्तमान महामारी में लोगों की अपेक्षाएं पूरी करने के लिए सांसद लोगों के बीच लगातार सड़क से संसद तक उपस्थित दर्ज करा रहे हैं. लोगों की अपेक्षाओं पर खरा उतरते हुए रवि किशन ने वह करके दिखाया, जिसकी किसी को कल्पना नहीं थी. सांसद बनने के कुछ माह ही बीते थे कि देश में कोरोना ने दस्तक दे दिया। विकट समय में भी गोरखपुर की जनता के बीच सांसद रवि किशन शुक्ला दिनरात  सक्रिय रहे. महामारी के बीच भी रवि किशन ने सेवा, सहयोग, संवाद के जरिये परिपक्व जनप्रतिनिधि के रूप में जनता के बीच सेवाएं देने का काम किया। गोरखपुरी नहीं बल्कि पूरे देश के अंदर सांसद रवि किशन शुक्ला ने अपने चाहने वाले, शुभचिंतक, पीड़ित लोग, गरीब, मजदूर, किसान, यात्रियों को कोविड-19 में सेवा देने का कार्य किया। इतना ही नहीं जब सांसदों से पीएम केयर्स फंड में सहयोग की अपील की गई तो सांसद रवि किशन शुक्ला ने अपने पूरे पांच साल की निधि देने का एलान किया था जो एक नजीर बनी थी. सांसद रवि किशन शुक्ला का जमीन पर उतर कर जन-जन के कार्य, देश में जनता के बीच पहुंचना और जनता की सेवा में 24 घंटे तत्परता के साथ कार्य करना नजीर बनी. सांसद निष्पक्षता, ईमानदारी, निष्ठा, समर्पण भाव के साथ गोरखपुर के विकास के लिए कार्य कर रहे हैं. वर्तमान में देश पुनः एक बार महामारी कोविड-19 की जद में आया और पूरी ताकत से प्रहार किया है। एक गंभीर परिस्थितियों से देश गुजर रहा है. आज भी सांसद रवि किशन शुक्ला की तरफ जिस प्रकार से आशा भरी निगाहों से क्षेत्र की ही नहीं, पूरे देश के जानने वाले, उनके चाहने वाले, उनको समझने वाले गोरखपुर के लोगों की अपेक्षाएं और आशा थी, उसी प्रकार से सहयोग सांसद रवि किशन शुक्ला कर रहे है.  जनता को उन्होंने कभी निराश नहीं किया। कोविड-19 की शुरुआत जैसे हुई सांसद रवि किशन शुक्ला संवाद, संपर्क और सहयोग का कार्य अपनी टीम के साथ त्वरित प्रारंभ कर दिया, जो अनवरत जारी है. कोविड-19 से बचाव के लिए, पीड़ित लोगों के सहयोग के लिए सांसद रवि किशन शुक्ला ने अनेक प्रयास किए. उनके नेतृत्व में कोविड-19 के मरीजों को त्वरित सहायता और सहयोग प्रदान करने के लिए 24 घंटे सुसज्जित संसाधनों के साथ सांसद हेल्पलाइन नंबर की शुरुआत की है. सांसद रवि किशन शुक्ला अपने लोगों के लिए, गोरखपुर की जनता के लिए तथा देश के कोने कोने में इस महामारी से जूझ रहे लोगों के सहयोग के लिए मसीहा की भूमिका निभा रहे हैं. सांसद के पहल पर गोरखपुर एम्स में कोविड़ वार्ड की शुरुआत कराकर बेहतरीन कार्य किया गया है. सोशल मीडिया, फेसबुक, ट्विटर अकाउंट के माध्यम से जिन जिन ने भी पुकारा और जिसने भी आवाज दिया सांसद रवि किशन शुक्ला इस वैश्विक महामारी में उनके लिए अपना सहयोग प्रदान कर रहे हैं. स्वास्थ्य विभाग, पुलिस प्रशासन, डॉक्टर, हॉस्पिटल के बीच संवाद स्थापित करना तथा जरूरतमंदों को आर्थिक सहयोग के साथ ही लोगों की जीविका, मास्क, सैनिटाइजेशन आदि का प्रबंध कराया। वर्तमान में भी सांसद हेल्पलाइन के माध्यम से हजारों लोगों को सांसद रवि किशन शुक्ला की अगुवाई में सहयोग का कार्य चल रहा है. सांसद रवि किशन शुक्ला ने बीआरडी मेडिकल कॉलेज गोरखपुर में संसाधन और बेड की संख्या बढ़ाने का कार्य कराया। ऑक्सीजन की उपलब्धता सुनिश्चित करवाई, ऑक्सीजन प्लांट की शुरुआत के लिए कार्य किया। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री से संपर्क कर गोरखपुर में कोविड-19 वार्ड एम्स में शुरुआत कराने का कार्य किया। लोगों के टीकाकरण का प्रबंध कराया। शासन प्रशासन और स्वास्थ्य कर्मियों को आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए लोगों को किसी भी प्रकार से कोई परेशानी न हो इसका ध्यान रखा. जब गोरखपुर ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए तड़प रहा था तो तुरंत ऑक्सीजन का प्रबंधन कराया। एंबुलेंस, हॉस्पिटल से संबंधित लोगों की शिकायतें दूर कराई, दवाओं के कालाबाजारी पर नियंत्रण त्वरित संज्ञान लेकर कराया। यहां तक कि सांसद रवि किशन शुक्ला ने अपने फैंस, गोरखपुर वासियों को प्रेरित करने के लिए गोरखपुर के ही जिला अस्पताल में अपना वैक्सीनेशन करवा करके जनता के बीच एक बड़ा संदेश देने का कार्य किया। 2000 लीटर सेनीटाइजेशन कराने के लिए दवाओं का प्रबंध कराकर पूरे संसदीय क्षेत्र में छिड़काव का कार्य युद्ध स्तर चलाए जा रहे हैं. गोरखपुर नगर निगम के साथ संवाद स्थापित कर सैनिटाइजेशन का काम पार्षद गणों, भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं से लगातार संवाद संपर्क और उनका उत्साह बढ़ाने का कार्य भी किया जा रहा है. सांसद रवि किशन शुक्ला पहली बार सांसद बने हैं लेकिन एक परिपक्व नेता के तौर पर जनता के विश्वास पर खरा उतरने का काम किया है.


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget