290 अंक गिरकर 50000 के नीचे बंद हुआ सेंसेक्स


नई दिल्ली

 वैश्विक बाजारों में नकारात्मक रुख का असर घरेलू शेयर बाजार पर भी नजर आया। बुधवार को हफ्ते के तीसरे दिन शेयर बाजार लाल निशान पर 50,000 के स्तर के नीचे बंद हुआ। बीएसई का सेंसेक्स 290.69 अंक गिरकर 49,902.64 के स्तर और एनएसई का निफ्टी 77.95 अंकों की गिरावट के साथ   15,030.15 के स्तर पर बंद हुआ।मिश्रित वैश्विक संकेतों के बीच बुधवार को सुबह शेयर बाजार की शुरुआत लाल निशान पर हुई, लेकिन जल्द ही सेंसेक्स ने रिकवर कर लिया और हरे निशान पर आ गया। 

बीएसई का सेंसेक्स एक समय 70.28 अंक चढ़कर 50,267 और एनएसई का निफ्टी 14.65 अंकों की तेजी के साथ 15,122 के स्तर पर कारोबार कर रहा था। कारोबार के अंत में सेंसेक्स में सबसे अधिक एक प्रतिशत से अधिक की गिरावट एमएंडएम में हुई। इसके अलावा ओएनजीसी, कोटक बैंक, आईटीसी, एचयूएल और एचडीएफसी बैंक भी गिरावट पर बंद हुए। दूसरी ओर पावरग्रिड, एसबीआई, अल्ट्राटेक सीमेंट, नेस्ले इंडिया और एनटीपीसी हरे निशान पर बंद हुए। मंगलवार को वैश्विक बाजारों के सकारात्मक रुख और घरेलू बाजार में बड़े शेयरों में लिवाली के चलते मंगलवार को बंबई शेयर बाजार (बीएसई) का संवेदी सूचकांक 613 अंक उछलकर 50 हजार से ऊपर निकल गया। बीएसई सेंसेक्स में बड़ा स्थान रखने वाले शेयरों एचडीएफसी बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज और बजाज फाइनेंस में लिवाली निकलने से बाजार में तेजी रही। कारोबार की समाप्ति पर बीएसई का 30-शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 612.60 अंक यानी 1.24 प्रतिशत बढ़कर 50,193.33 अंक पर बंद हुआ। इसी प्रकार नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी भी 184.95 अंक यानी 1.24 प्रतिशत बढ़कर 15,000 अंक के स्तर को पार करता हुआ 15,108.10 अंक पर पहुंच गया। रिलायंस सिक्युरिटीज के बाजार रणनीति प्रभाग के प्रमुख विनोद मोदी ने कहा कि कोविड-19 के नये मामलों में गिरावट के शुरुआती संकेत मिलने और अर्थव्यवस्था में सुधार की गति तेज होने की उम्मीद से घरेलू शेयर बाजारों में तेजी का रुख रहा। एशियाई बाजारों से मजबूती के संकेतों से भी बाजारों में तेजी को समर्थन मिला।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget