तेल की कीमतों में होगी 70 डॉलर तक की बढ़ोतरी


नई दिल्ली

 5 मई की स्थिति में कच्चे तेल की कीमतें ब्रेंट और डब्ल्यूटीआई (सीएमपी: $67.56 और $64.5 /बैरल) 8 फरवरी से 5 मई 2021 की अवधि में $10 की विस्तृत रेंज में (ब्रेंट के लिए $60- $70 और डब्ल्यूटीआई के लिए $57- $67) कारोबार करती दिखी। एमसीएक्स वायदा पर, तेल की कीमतें समान अवधि में 4200-5000 रुपए प्रति बैरल के दायरे में कारोबार कर रही हैं।

एंजल ब्रोकिंग लिमिटेड के नॉन एग्री कमोडिटी एंड करेंसी रिसर्च एवीपी प्रथमेश माल्या ने बताया कि कमजोर डॉलर, अमेरिका, चीन और यूरोप से बढ़ती मांग की संभावनाएं, अमेरिका में तेल का घटता भंडार, अमेरिका में रिफाइनरी उपयोग दर में वृद्धि, चीन के तेल आयात में वृद्धि, अमेरिका और चीन में टीकाकरण अभियान जैसे कुछ कारकों ने काले सोने की कीमतों को बढ़ाया। हाल के हफ्तों में अमेरिका और यूरोप में लॉकडाउन में ढील से तेल बाजारों के लिए आशा का माहौल बना है। इसके विपरीत, दुनिया में कच्चे तेल के तीसरे सबसे बड़े उपभोक्ता भारत में कोविड-19 की दूसरी लहर की वजह से सुस्त मांग की चिंताओं के बावजूद कीमतें स्थिर हैं। रॉयटर्स के सर्वेक्षण के अनुसार पेट्रोलियम निर्यातक देशों के 13-सदस्यीय संगठन ने अप्रैल में 25.17 मिलियन बैरल प्रति दिन (बीपीडी) पंप किया, जो कि रॉयटर के सर्वेक्षण के अनुसार, जो मार्च से 100,000 बीपीडी अधिक था। फरवरी को छोड़कर जून 2020 से हर महीने उत्पादन बढ़ा है। 


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget