मानसून में नहीं रुकेगी मुंबई की लाइफ लाइन

मुंबई

मानसून के समय लोगों को तकलीफों का सामना न करना पड़े इसके लिए सभी प्रकार के उपाय किए जा रहे हैं। रेलवे भी पटरियों पर पानी न जमा हो इसके लिए प्रयत्न कर रही है। पटरियों पर पानी भरने वाले अतिसंवेदनशील स्थानों पर माइक्रो टनलिंग का काम बड़े पैमाने पर किया जा रहा है, जिसके चलते सैंडहर्स रोड सहित विद्याविहार कुर्ला चूनाभट्टी तिलक नगर और बांद्रा खार के बीच पटरियों पर पानी नहीं जमा होगा।  सांडहर्स  रोड स्टेशन के पास मध्य रेलवे की ओर से 1,8 मीटर व्यास और 400 मीटर लंबा नया भूमिगत पाइप लाइन डालने का काम इस समय किया जा रहा है। रेलवे की ओर से शुरू किया गया यह काम मई के आखिरी तक पूरा हो जाने  की संभावना है। सैंडहर्स रोड  से मस्जिद बंदर के बीच बारिश का पानी निकलने के लिए कलवर्ट नहीं होने के कारण नालों से पानी निकलता था, जो की भारी बारिश के समय परेशानी खड़ा करता था। मस्जिद बंदर के पास नया कलवर्ट बनाया जा रहा है, जिसके लिए 1 मीटर व्यास और 70 मीटर लंबी  पाइप लाइन बिछाई जा रही है। यह काम भी मई के आखिरी तक पूरा हो जाने की संभावना व्यक्त की जा रही है। मुंबई की लोकल सेवा न ठप्प पड़े इसके लिए इस बार पानी निकासी के लिए यह महत्वपूर्ण कदम रेलवे की ओर से उठाए जा रहे है। मनपा आयुक्त इकबाल सिंह चहल के साथ मानसून के समय की जाने वाली तैयारियों को लेकर हुई बैठक में मनपा सहित रेलवे म्हाडा बीपीटी एमएमआरडीए आदि संस्थानों  की बैठक में रेलवे अधिकारियों  ने दी।

पानी निकालने के लिए पंप की संख्या बढ़ाई गई

कुर्ला विद्याविहार तिलक नगर  चूनाभट्टी इन स्टेशनों के पास कलवर्ट एवं नालों की सफाई का पहले चरण का कार्य पूरा हो गया है। इस परिसर के माइक्रो टनलिंग का काम भी पूरा हो गया है। पटरियों पर जमा होने वाले पानी और ओहरहेड वायर पर आने वाले पेड़ों की टहनियां से आग लगने की संभावना बनी रहती है, जिसकी छटाई का भी काम पूरा कर लिया गया है। इस साल पानी भरने की समस्या दूर करने के लिए पानी निकासी के लिए 10 प्रतिशत अधिक पम्प की व्यवस्था की गई है, जिससे पानी भरने पर उसे उठाकर नालों में फेंका जा सके।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget