लोजपा नेता उरांव की अपहरण के बाद हत्या

पूर्णिया 

अपह्रत लोजपा नेता का 72 घंटे बाद शव मिला है। गुरुवार दोपहर को केहाट थाना क्षेत्र के सर्किट हाउस के समीप से अपहृत हुए लोजपा नेता अनिल उरांव उम्र 35 वर्ष निवासी जेपी नगर का शव के नगर थाना क्षेत्र से मिलने के बाद परिजनों समेत अन्य लोगों के द्वारा शहरी क्षेत्रों में सड़क जाम कर आगजनी के अलावा तोड़फोड़ की घटना को अंजाम दिया है। बिहार के पूर्णिया में फिरौती के लिए लोक जनशक्ति पार्टी(एलजेपी) के अपहृत नेता 38 साल के अनिल उरांव की हत्या कर दी गई है। अपह्रत लोजपा नेता का 72 घंटे बाद शव मिला है। गुरुवार दोपहर को केहाट थाना क्षेत्र के सर्किट हाउस के समीप से अपहृत हुए लोजपा नेता अनिल उरांव उम्र 35 वर्ष निवासी जेपी नगर का शव के नगर थाना क्षेत्र से मिलने के बाद परिजनों समेत अन्य लोगों के द्वारा शहरी क्षेत्रों में सड़क जाम कर आगजनी के अलावा तोड़फोड़ की घटना को अंजाम दिया है। अहले सुबह से ही लोग सड़क पर उतर कर आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए नारे लगा रहे हैं । गुलाब बाग जीरोमाइल से जिला मुख्यालय तक जाम कर दिया गया है। पूर्णिया कोर्ट स्टेशन स्थित गुमटी नंबर पांच पर भी लगाकर परिजन हंगामा कर रहे हैं। पूर्णिया कोर्ट स्टेशन परिसर में भी तोड़फोड़ की घटना को अंजाम दिया गया है। रेल की पटरी पर पाइप रख दी गयी है। इससे ट्रेन का परिचालन भी प्रभावित हुआ है। फिलहाल पुलिस की टीम परिजनों को समझाने में जुटी हुई है, लेकिन परिजन कुछ भी मानने से इंकार कर रहे हैं। पुलिस ने प्रथम दृष्टया अनुसंधान के तहत कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया है। प्रेम प्रसंग समेत जमीनी विवाद का भी मामला सामने आ रहा है। बताया जाता है कि पुलिस एक महिला को हिरासत में लेकर पूछताछ भी कर रही है। परिजनों का यह भी आरोप है कि अपहर्ता के द्वारा दस लाख फिरौती भी ले लिया गया और इसके बाद भी उसकी हत्या कर दी गई । 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget