मैंने सब सेट पर ही सीखा : तापसी


तापसी पन्नू साउथ के साथ-साथ बॉलीवुड में भी अपनी पकड़ मजबूत कर चुकी हैं। तापसी ने राघवेंद्र राव द्वारा निर्देशित 2010 में बनी तेलुगू फिल्म झुम्माण्डि नादां के साथ अपने अभिनय कैरियर की शुरुआत की थी। उन्होंने ‘चश्मे बद्दूर’ से बॉलीवुड डेब्यू किया। तापसी ने पहली ही फिल्म से बॉलीवुड में अपना रंग जमा लिया था। हाल ही में तापसी ने खुलासा किया कि ‘चश्मे बद्दूर’ के लिए उन्होंने कोई ऑडिशन नहीं दिया था। तापसी ने कहा, फिल्मों में काम करने को लेकर मेरी कोई ट्रेनिंग नहीं हुई है। मैंने सब सेट पर रहकर ही सीखा है। मैं एक ऐसी लड़की थी, जो प्रीति जिंटा की तरह लगती थी। शायद इसी वजह से मुझे बॉलीवुड में ब्रेक मिल गया। उन्होंने कहा, ऊपरवाले का शुक्र है मुझे अपनी पहली बॉलीवुड फिल्म ‘चश्मे बद्दूर’ के लिए ऑडिशन नहीं देना पड़ा। अगर मैंने गलती से भी ऑडिशन दिया होता तो मैं बुरी तरह फेल हो जाती। एक इंटरव्यू में तापसी ने कहा था, मैने बहुत खराब ऑडिशन दिए हैं। मैं अपनी जिंदगी में हर ऑडिशन में असफल रही हूं। सचमुच कैमरा और टॉर्चलाइट लगाकर आप मुझे अभिनय करने को कहें तो मैं बेहद घटिया कलाकार हूं। मैं इस प्रकार अभिनय नहीं कर पाती। मैं विज्ञापन तक के ऑडिशन में फेल हो गई थी। शुरू में मुझे काम नहीं आता था। मैं अब सोचती हूं कि उस समय मैं कर क्या रही थी।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget