'तौकते' के खौफ से अलर्ट

मुंबई तथा आसपास के क्षेत्रों में सतर्कता के इंतजाम


मुंबई

महाराष्ट्र के दक्षिणी समुद्री तटों पर समुद्री तूफान 'तौकते' का खतरा लगातार बना हुआ है। 18 मई को यह गुजरात के तटवर्ती क्षेत्रों से टकराएगा। मौसम विभाग के मुताबिक, इससे पहले यह महाराष्ट्र के तटीय इलाके जैसे रायगढ़, सिंधुदुर्ग, मुंबई और पालघर समेत कोंकण के कुछ इलाकों को प्रभावित कर सकता है। तूफान के दौरान इन इलाकों में 175 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं। तटीय इलाकों में संभावित खतरे को देखते हुए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने विशेष रूप से पालघर, रायगढ़, रत्नागिरी और सिंधुदुर्ग के तटीय क्षेत्रों के जिला प्रशासन, संभागीय आयुक्तों और जिला कलेक्टरों को सतर्क और चक्रवात को लेकर तैयार रहने के निर्देश दिए हैं। इन जिलों के तटीय इलाकों में स्थित गांववालों को भी हटाया जा रहा है।

रायगढ़ के जिलाधिकारी ने तट से सटे सभी तालुकाओं के तहसीलदारों को निर्देश दिया है कि वे समुद्र किनारे रहने वाले गांववालों के स्थानांतरण की पूरी व्यवस्था करें। 'तौकते' के कोंकण और मुंबई के समुद्री इलाकों से गुजरने की आशंका के मद्देनजर मुंबई में सभी जंबो कोविड सेंटर व अन्य कोविड सेंटरों को सुरक्षित करने का काम किया जा रहा है। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'तौकते' से खतरे की आशंका को देखते हुए शनिवार को समीक्षा बैठक की। प्रधानमंत्री ने अधिकारियों से लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाने के लिए तमाम कदम उठाने को कहा है। साथ ही बिजली, दूरसंचार, स्वास्थ्य, पेयजल जैसी जरूरी सेवा को सुनिश्चित करने को कहा है।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget