शेयर बाजार में इस साल की छठी सबसे बड़ी गिरावट

938 अंक लुढ़का सेंसेक्स, निफ्टी 14631 पर बंद


नई दिल्ली

शुक्रवार को इस महीने के अंतिम कारोबारी दिन को शेयर बाजार में कोरोना के बढ़ते मामलों और मुनाफा वसूली का प्रभाव दिखा। कोविड-19 के बढ़ते मामलों की चिंता और मुनाफावसूली के दबाव में बीएसई के 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 938 अंक लुढ़क कर 48782 पर बंद हुआ। वहीं, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 263.80 अंकों का गोता लगाकर 14,631.10  के स्तर पर बंद हुआ। सेंसेक्स में ओएनजीसी, सनफार्मा, डॉ रेड्डी और बजाज ऑटो को छोड़ बाकी के 26 स्टॉक लाल निशान पर बंद हुए। वहीं अगर निफ्टी टॉप गेनर की बात करें तो ONGC में 3.99 फीसद, COAL INDIA में 3.87 फीसद,  GRASIM में 3.73 फीसद , DIVIS LAB में 3.61 फीसद और IOC में 2.14 फीसद की बढ़त  दर्ज की गई। वहीं टॉप लूजर में एचडीएफसी, एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, कोटक बैंक और एशियन पेंट रहे। वैश्विक शेयर बाजारों में तेजी के बीच सेंसेक्स और निफ्टी मामूली बढ़त के साथ बंद हुए। 30  शेयरों पर आधारित सेंसेक्स में कारोबार के दौरान 840 अंक का उतार-चढ़ाव आया। अंत में यह 32.10 अंक यानी 0.06 प्रतिशत की बढ़त के साथ 49,765.94 अंक पर बंद हुआ। इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 30.35 अंक यानी 0.20 प्रतिशत की हल्की बढ़त के साथ 14,894.90 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स के शेयरों में सर्वाधिक लाभ में बजाज फिनसर्व रही। इसमें करीब 7 प्रतिशत की तेजी आयी। इसके अलावा बजाज फाइनेंस, एक्सिस बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज और इंडसइंड बैंक में भी मजबूती आई। दूसरी तरफ बजाज ऑटो, एचडीएफसी, एचसीएल टेक और एल एंड टी आदि शेयरों में गिरावट रही।


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget