लावारिस मरीज को वार्डबॉय ने फुटपाथ पर फेंका

मुंबई

मनपा के केईएम हॉस्पिटल में इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है। यहां एक लावारिस बुजुर्ग मरीज को हॉस्पिटल से बाहर निकाल कर वार्डबॉय ने सड़क पर मरने के लिए छोड़ दिया। उसकी यह अमानवीय हरकत स्थानीय मनसे नेता ने अपने मोबाइल फोन में कैद की और हॉस्पिटल प्रशासन की इसकी जानकारी दी। हॉस्पिटल प्रशासन ने भी इसमें फौरन जांच बैठाई और CCTV की जांच के बाद वार्डबॉय की करतूत का खुलासा हुआ। रविवार को हॉस्पिटल के डीन ने उसे नौकरी से बर्खास्त कर दिया। जानकारी के मुताबिक, यह घटना शुक्रवार रात 1.30 बजे हुई है। इस मामले के चश्मदीद और महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के वार्ड अध्यक्ष मनीष राउल ने बताया कि करीब 65 वर्षीय बुजुर्ग को अजय नामक वार्डबॉय ने रात करीब 1.30 बजे उस गेट से निकाला जहां से शवों को निकाला जाता है। यह गेट शाम के बाद से बंद रहता है, लेकिन बीमारी से ग्रसित बुजुर्ग को उस गेट से चोरी से निकाल कर फुटपाथ पर फेंक दिया गया।

हंगामे के बाद हॉस्पिटल में ले गया वार्डबॉय

राउल ने आगे बताया,'जब हमारी नजर पड़ी और वार्डबॉय से पूछा तो पता चला कि बुजुर्ग 4-ए वार्ड में एडमिट था। डॉक्टर के कहने पर वार्डबॉय उसे फुटपाथ पर छोड़ने चला आया। जब लोगों की भीड़ इक्कठा हो गई और हल्ला होने लगा तो वार्डबॉय ने फिर से बुजुर्ग को स्ट्रेचर पर लिटाया और अस्पताल ले गया।' मनसे नेता ने इसकी जानकारी हॉस्पिटल के डीन डॉ. हेमंत देशमुख को दी और इससे जुड़ा वीडियो भी सबूत के रूप में दिखाया। इसके बाद डीन ने मामले में जांच करवाई जिसमें वार्डबॉय दोषी निकला। CCTV फुटेज में भी वह बुजुर्ग को सड़क पर फेंकता हुआ नजर आ रहा था। रविवार को हॉस्पिटल प्रशासन की संस्तुति के बाद अजय को नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया। इस घटना पर डॉ देशमुख ने कहा कि ऐसी हरकत बिलकुल बर्दाश्त नहीं की जाएगी।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget