गोरखपुर में कम होगी ऑक्सीजन की किल्लत

गोरखपुर

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच गोरखपुर सहित आसपास के जिलों के लिए राहत भरी खबर है। शनिवार को 40 मीट्रिक टन ऑक्सीजन एक्सप्रेस जमशेदपुर से गोरखपुर पहुंच गई है। पिछले एक महीने से ऑक्सीजन को लेकर जिले में मारामारी चल रही थी। 40 टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन मिलने से संक्रमितों के इलाज में सुविधा होगी। गीडा स्थित आरके और मोदी ऑक्सीजन प्लांट पर गोरखपुर मंडल के सभी जिलों का भार है। घंटों लाइन लगने के बाद भी ऑक्सीजन की किल्लत पड़ रही थी, जिसे देखते हुए जिला प्रशासन ने अतिरिक्त उत्पादन पर जोर देने के साथ ही 40 टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन बाहर से मंगाने का फैसला लिया था। बोकारो और जमशेदपुर से दो ऑक्सीजन एक्सप्रेस दुर्गापुर होते हुए शनिवार को गोरखपुर पहुंच गई हैं। 40 टन लिक्विड ऑक्सीजन के गोरखपुर पहुंचने के बाद गीडा स्थित आरके और मोदी प्लांट को 20-20 टन भेजने की तैयारी चल रही है। दोनों प्लांटों को अतिरिक्त ऑक्सीजन उपलब्ध होने से ऑक्सीजन की कमी को पूरा किया जा सकता है।

वाराणसी को मिली 120 टन लिक्विड ऑक्सीजन

मुख्य जनसंपकर्क अधिकारी पंकज कुमार सिंह ने बताया कि ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेन गोरखपुर पहुंच गई है। 40 मीट्रिक टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन गोरखपुर को मिलने से लोगों को काफी सहूलियत होगी। इसके अलावा 120 मीट्रिक टन लिक्विड ऑक्सीजन वाराणसी के माधोसिंह रेलवे स्टेशन पहुंची है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget