भारतीय बल्लेबाजों को मिला जीत का फॉर्मूला

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल


नई दिल्ली

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल और करीब आ गया है। भारतीय टीम के खिलाड़ी फिलहाल तो मुंबई में हैं, लेकिन हर किसी के दिमाग में फाइनल की तैयारी चल रही है। खिलाड़ी आपस में चर्चा कर रहे हैं। मुकाबला न्यूज़ीलैंड की टीम से है। मैदान इंग्लैंड का साउथैंप्टन है। वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल हर किसी के लिए बहुत अहम है। बतौर कप्तान विराट कोहली के पास आईसीसी खिताब जीतने का मौका है। बतौर कोच रवि शास्त्री की भी यही ख्वाहिश है। बतौर टेस्ट स्पेशलिस्ट बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे भी इसी लक्ष्य के साथ मैदान में उतरेंगे। ये मुकाबला 18 जून से शुरू होगा। इस अहम टेस्ट मैच से पहले भारतीय टीम के बल्लेबाजों के सामने एक फॉर्मूला है जो उसकी जीत का रास्ता साफ कर सकता है। ये फॉर्मूला है मिशन-400। यानी स्कोरबोर्ड पर 400 रन जोड़ना। यूं तो टेस्ट क्रिकेट की पारंपरिक परिभाषा कहती है कि गेंदबाज टेस्ट मैच जिताते हैं और बल्लेबाज टेस्ट मैच बचाते हैं। लेकिन फिलहाल बल्लेबाजों के सामने ये चुनौती है कि अगर वो टीम की जीत सुनिश्चित करना चाहते हैं तो उन्हें स्कोरबोर्ड पर 400 से ज्यादा रन जोड़ने होंगे। वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के आंकड़े यही कहते हैं।

भारत ने वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में खेले 17 मैच

इन 17 मैच में भारत को 12 जीत मिली। जबकि चार टेस्ट मैच में उसे हार का सामना करना पड़ा। एक टेस्ट मैच ड्रॉ रहा। वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में भारतीय टीम ने सबसे ज्यादा मैच जीते। इन मैचों के आंकड़े बताते हैं कि 17 टेस्ट मैच में पांच पारियों में भारतीय टीम ने 400 रन का आंकड़ा पार किया है। इन सभी मैचों में उन्हें जीत मिली है। 2019 में भारत ने किंग्सटन टेस्ट में वेस्टइंडीज के खिलाफ पहली पारी में 416 रन बनाए थे। भारत ने वो मैच 257 रन से जीता था। इसके बाद दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ विशाखापट्टनम टेस्ट में भारत ने पहली पारी में 502 रन बनाए थे। भारत ने वो मैच 203 रन से जीता था। पुणे में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ ही अगले टेस्ट मैच में भारत ने स्कोरबोर्ड पर पांच विकेट पर 601 रन जोड़े। भारत ने वो मैच पारी और 137 रन के बड़े अंतर से जीता। राची में अगले टेस्ट मैच में एक बार फिर भारतीय टीम ने 497 रन जोड़े। इस मैच में उसे पारी और 202 रन के अंतर से जीत मिली। बांग्लादेश के खिलाफ इंदौर टेस्ट में भी जीत का फॉर्मूला यही था। 


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget