तबाही के तूफान का अंत !

पांच राज्यों में 23 लोगों की गई जान     समंदर में जिंदगी बचाने की जंग


अहमदाबाद

कर्नाटक, केरल, महाराष्ट्र, और गोवा में तबाही मचाने के बाद अरब सागर में उठा चक्रवाती तूफान तौकते गुजरात होते हुए राजस्थान पहुंच गया है और यहीं पर इस तूफान का अंत होने  की संभावना मौसम विभाग ने व्यक्त की है। 

इसके असर से गुजरात के कई जिलों में सोमवार रात और मंगलवार को भी भारी बारिश हुई और तेज हवाएं चलीं। नेशनल डिजास्टर रेस्पॉन्स फोर्स (NDRF) के डीजी एसएन प्रधान का कहना है कि तूफान का सबसे खराब दौर गुजर गया है और यह डिप्रेशन में चला जाएगा।

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने बताया कि तूफान की वजह से राज्य में तीन लोगों की मौत हुई है। तेज हवाओं की वजह से 40 हजार पेड़ गिर गए और 16,500 कच्चे मकानों को नुकसान हुआ है। 2400 से ज्यादा गांवों में बिजली नहीं है। 122 कोविड हॉस्पिटल में भी पावर सप्लाई में दिक्कत हुई है। 

राजस्थान के कई जिलों में तूफान का असर दिखाई देने की संभावना मौसम विभाग ने व्यक्त की है। विभाग के अनुसार यहां पर तूफान की रफ्तार 45 से 50 किमी प्रति घंटे के आस पास रहेगी जिससे भारी नुकसान की आशंका नहीं है। यहां पर तेज बारिश की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता।

तौकते से 3 दिन में 5 राज्यों में 23 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें सबसे ज्यादा 11 मौतें महाराष्ट्र में हुई हैं। इससे पहले सोमवार और रविवार को तूफान की वजह से कर्नाटक के अलग-अलग जिलों में पांच लोगों की मौत हुई थी। वहीं गोवा और तमिलनाडु में 2-2 लोगों की जान गई थी।

अरब सागर में चार जहाजों में 495 लोग फंसे

तौकते तूफान के बाद मुंबई के समंदर में चार जहाज फंस गए। इन जहाजों पर 710 लोग फंसे थे जिनमें से अब तक 334 लोगों को रेस्क्यू किया गया है, जबकि 100 से अधिक लोग अभी फंसे हैं। इन्हें बचाने के लिए नौसेना के जवानों ने जान लड़ा दी है। 

गुजरात का हवाई दौरा करेंगे पीएम

तौकते तूफान के चलते भारी तबाही का सामना कर चुके गुजरात का आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हवाई दौरा करने वाले हैं। इस दौरान वह राज्य में हुए नुकसान का हवाई सर्वेक्षण करने के बाद राज्य के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी को इससे निपटने के सुझाव के अलावा आर्थिक मदद की घोषणा भी कर सकते हैं। 


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget