कोरोना की तीसरी लहर तैयारी में जुटा जिला प्रशासन

डॉक्‍टरों के साथ हुआ प्रशासन का मंथन

वाराणसी

कोविड की तीसरी लहर से बच्‍चों को सुरक्षित रखने की दिशा में प्रयास शुरू हो गए हैं। आयुक्तालय सभागार में बुधवार को एमएलसी एके शर्मा की अध्यक्षता में एक महत्वपूर्ण बैठक हुई। आयुक्त दीपक अग्रवाल व जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा के अलावा जनपद के सरकारी और निजी अस्पतालों के बच्चों के डॉक्टर भी शामिल हुए। जानकारी के अनुसार विशेषज्ञों द्वारा संभावना जताई जा रही है कि कोरोना की तीसरी वेव बच्चों को सर्वाधिक प्रभावित करेगी। इसलिये बच्चों के आईसीयू तथा इसमें प्रयोग किये जाने वाले आवश्यक उपकरण कौन कारगर साबित होंगे। इसके विवरण चिकित्‍सक की टीम कर ले। इसके अलावा संक्रमण से पूर्व सुरक्षात्मक क्या-क्या विटामिन व दवाएं दी जा सकती हैं, इसकी सूची भी तैयार कर लें ताकि समय से बच्‍चों को देकर संक्रमण होने से बचाया जा सके।  एमएलसी ने कहा कि मेडिकल के तीसरे और चौथे वर्ष के छात्रों को मास्टर ट्रेनर के द्वारा ट्रेनिंग दिलाने का सुझाव भी दिया गया ताकि जरूरत पर इनका उपयोग किया जा सके। यह तैयारी सिर्फ वाराणसी ही नहीं आसपास के जनपदों को शामिल करते हुए की जा रही है। एक जून से बच्चों के सैंपल कलेक्शन शुरू करने तथा गुरुवार से ही बीएचयू के विशेषज्ञों की ओर से मास्टर ट्रेनर तैयार करने का निर्देश दिया गया। मंडलायुक्त ने कहा कि बच्चों का इलाज करने वाले प्राइवेट अस्पताल, टेस्ट किट के द्वारा अपने अस्पताल में ही आरटीपीसीआर जांच हेतु सैंपल कलेक्ट करके सीएमओ को उपलब्ध कराएं। 

साथ ही बच्‍चों के अभिभावक को जागरूक करने तथा प्राइवेट अस्पतालों को अधिक से अधिक सर्विलांस बढ़ाये जाने के लिए भी कहा गया तथा एसओपी व प्रजेंटेशन भी तैयार किए जाने का निर्देश सीएमओ को दिया। इसी के माध्‍यम से एहतियातन अन्य जानकारियां आम लोगों को दी जा सकें। एमएलसी द्वारा मंडलायुक्‍त व जिलाधिकारी को निर्देशित किया गया कि बाहर से मंगाये जाने वाले सभी जरूरी उपकरणों, उपकरण बनाने वाली कंपनियों व उनके मूल्य के विवरण सहित सूची विशेषज्ञों व डाक्टरों की टीम से तैयार कराएं ताकि शासन को प्रेषित कर आगे की कार्रवाही सुनिश्चित करायी जा सके।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget