मल्लिका का छलका दर्द


ख्वाहिश और 'मर्डर' जैसी फिल्मों में नजर आ चुकी एक्ट्रेस मल्लिका शेरावत अपनी बोल्डनेस के लिए खूब जानी जाती हैं, लेकिन फिल्मों में बोल्ड सीन्स के लिए उन्हें लोगों के ताने भी सुनने पड़ते रहे हैं। हाल ही में मल्लिका ने एक इंटरव्यू में अपना दर्द बयां किया है। मल्लिका ने बताया कि जब मैंने मर्डर में बोल्ड सीन दिए तो लोगों ने नैतिक रूप से लगभग मेरी हत्या कर दी थी। मुझे एक घटिया औरत के तौर पर देखा जाने लगा। जो भी सीन मैंने दिए थे वह आज फिल्मों में कॉमन हो गए हैं। वक्त के साथ ऐक्टर्स के प्रति लोगों के नजरिए में बदलाव आया है और हमारे सिनेमा में भी।' 50 और 60 के दशक में बनने वाली फिल्मों की तारीफ करते हुए मल्लिका ने कहा, 'उस समय पर महिलाओं के लिए बहुत अच्छे किरदार लिखे जा रहे थे मगर हमारी फिल्मों में वह खूबसूरती नहीं बची है। मैं सालों तक अच्छे किरदार का इंतजार करती रही।' बता दें, मल्लिका शेरावत ने साल 2003 में फिल्म 'ख्वाहिश' से बॉलिवुड में डेब्यू किया था। इसके बाद वह 2004 में फिल्म 'मर्डर' में नजर आईं, जिससे वह रातों-रात सुर्खियों में आ गईं थी। 'ख्वाहिश' और 'मर्डर' के अलावा एक्ट्रेस बच के रहना रे बाबा, द मिथ, प्यार के साइड इफेक्ट्स, शादी से पहले, गुरु, आपका सुरूर, वेलकम, दशावतारम, अगली और पगली, मान गए मुगले आजम, हिस्स, डबल धमाल, डर्टी पॉलिटिक्स जैसी फिल्मों में काम कर चुकी हैं।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget