गर्मी के मौसम में गर्भवती महिलाएं इस तरह रखें खयाल

pregnant

परेगनेंसी के दौरान महिला के शरीर में कई तरह के हार्मोनल बदलाव आते हैं जिसकी वजह से उसे काफी परेशानी झेलनी पड़ती है। वहीं अगर प्रेगनेंसी के दौरान गर्मी का मौसम हो, तो इसके लक्षण और ज्यादा तकलीफ देने लगते हैं और महिला को भूख की कमी, गैस, एसिडिटी, मितली, उल्टी जैसी समस्याएं होने लगती हैं जिसकी वजह से कमजोरी महसूस होती है और गुस्सा, इरिटेशन, चिड़चिड़ाहट आदि दिक्कतें बढ जा़ती हैं। यहां आपको बताते हैं ऐसे तरीके जिन्हें अपनाने से गर्मी के मौसम में कुछ राहत मिल सकती है।

  गर्मी में अक्सर शरीर में पानी की कमी हो जाती है, जिससे कई तरह की समस्याएं बढ़ती हैं। आप इससे बचने के लिए खूब पानी पिएं और छाछ, नारियल पानी, जूस आदि लिक्विड डाइट लेती रहें।

  खाने में ज्यादा से ज्यादा पानीदार सब्जियां जैसे लौकी, तोरई, टमाटर, खीरा आदि खाएं। सलाद खूब खाएं। रस वाले फलों का सेवन करें।

  •   गर्मी कि वजह से आपको बहुत थकान हो रही हो, तो अपने पति या परिवार के सदस्यों को घर के कामों में आपकी मदद करने के लिए कहें। कोशिश करें ज्यादा से ज्यादा काम सुबह के समय निपटा लें।
  •  अगर आपका कमरा गर्म रहता है तो इसे ठंडा करने के लिए अपने कमरे में पर दिनभर पर्दे बंद करके रखें, ताकि सूरज की सीधी रोशनी न पड़े। आप चाहें तो अपने घर की बालकनी, बरामदे, दरवाजों और खिड़कियों पर चिक लगा सकती हैं।
  •  ढीले और सूती कपड़े पहनें ताकि शरीर को हवा लगती रहे। पॉलिस्टर मिक्स और सिंथेटिक फाइबर वाले कपड़े पहनने से बचें। हल्के रंग के कपड़ों का चुनाव करें। दिन में कम से कम दो बार नहाएं।
  •  स्प्रे बोतल में दो हिस्से गुलाब जल और एक हिस्सा सादा फिल्टर पानी का मिश्रण भरकर अपने पास रखें। ज्यादा गर्मी लगने पर इसका चेहरे पर छिड़काव करें। इससे स्किन भी बेहतर होगी और गर्मी भी शांत होगी।
  •   जहां तक संभव हो छाया में ही रहने की कोशिश करें। अगर बहुत जरूरी हो तो ही धूप में बाहर निकलें। जब भी बाहर जाएं तो अपने साथ छाता लेकर जाएं। अपने सिर को स्कार्फ या दुपट्टे से कवर करें।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget