‘ऑनलाइन सेक्स रैकेट’ का पर्दाफ़ाश

मुंबई

लॉकडाउन की वजह से बेरोजगार हुए एक बॉलीवुड फोटोग्राफर नासिर खान को ऑनलाइन सेक्स रैकेट चलाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। नासिर ने पहले अपना नाम बदलकर करण ठाकुर किया और फिर ऑनलाइन ये सेक्स रैकेट चला रहा था। मुंबई क्राइम ब्रांच ने इस सेक्स रैकेट का पर्दाफाश किया है और नासिर खान को गिरफ्तार किया है।  महाराष्ट्र सहित देश के अनेक भागों में लॉकडाउन शुरू है, लेकिन आसामाजिक तत्व किसी ना किसी तरह से क्राइम करने का टाइम, स्पेस और चांस निकाल ही लेते हैं। लॉकडाउन की वजह से बेरोजगार हुए बॉलीवुड फोटोग्राफर नासिर खान ने एक अनोखे तरीके से सेकस रैकेट का धंधा शुरू किया था।

फ़र्जी नाम से सेक्स रैकेट

बदनामी से बचने के लिए आरोपी नासिर खान ने यह सेक्स रैकेट फ़र्जी नाम से शुरू किया था। नासिर खान ने इस धंधे के लिए अपना नाम करण ठाकुर रखा था, यह पूरा धंधा वह करण ठाकुर के नाम से ही चला रहा था। नासिर बॉलीवुड में फोटोग्राफर था, लेकिन लॉकडाउन की वजह से उसका काम बंद था। ऐसे में उसने सेक्स रैकेट का शॉर्टकट तरीका अपनाया।

कैसे होता था काम?

लॉकडाउन की वजह से आम नागरिकों को घर में ही रहना पड़ रहा है। बेहद ज़रूरी होने पर ही प्रशासन और पुलिस की अनुमति लेकर घर से बाहर निकला जा सकता है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए आरोपी ने एक नए तरीके से ऑनलाइन सेक्स का धंधा शुरू किया। प्राप्त जानकारी के मुताबिक इस सिस्टम में कस्टमर और लड़की एक-दूसरे से ऑनलाइन तरीके से संपर्क करके ‘परफॉर्म’ किया करते थे। 

पुलिस के मुताबिक आरोपी ने ऑनलाइन सेक्स रैकेट के लिए अपनी एक टीम तैयार की थी, www.massagerepublic.com, www.adultfriendfinder.com, www.eurogrillsescort.com जैसी वेबसाइट्स पर लड़कियों के फोटो और मोबाइल नंबर अपलोड किए जाते थे, अगर कोई संपर्क करता था तो सब कुछ फिक्स होने के बाद पैसे ऑनलाइन ही लिए जाते थे।

11 लड़कियों को छुड़ाया गया

इससे पहले भी क्राइम ब्रांच ने ऑनलाइन सेक्स रैकेट पर कार्रवाई की थी। मुख्य आरोपी की टीम के 6 सदस्यों को अरेस्ट किया गया था और करीब 11 पीड़िताओं को इस धंधे से बाहर निकाला गया था, उसके मुंबई आने की जानकारी जब क्राइम ब्रांच को मिली तो उसके मुताबिक पुलिस ने कार्रवाई करते हुए मुख्य आरोपी को अंधेरी इलाके से गिरफ्तार कर लिया।  


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget