राउत का वार, पटोले का पलटवार

raut patole

मुंबई

यूपीए नेतृत्व को लेकर शिवसेना सांसद संजय राउत द्वारा दिए गए बयान पर एक बार फिर राज्य की महाविकास आघाडी सरकार में खींचतान शुरू हो गई है। हाल ही में पश्चिम बंगाल में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के प्रदर्शन पर राउत के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस  प्रदेशाध्यक्ष नाना पटोले ने कहा कि कांग्रेस पार्टी राउत को गंभीरता से नहीं लेती, इसके साथ वे मुखपत्र सामना में क्या लिखते हैं, इससे पार्टी को फर्क नहीं पड़ता क्योंकि हमने सामना पढ़ना बंद कर दिया है। सोमवार को पत्रकारों से  बात करते हुए पटोले ने कहा कि जहां हमारे पार्टी के नेता और संगठन की अवहेलना करने की कोशिश की जाती है, वहां नजरअंदाज करना बेहतर है, यही हमारी भूमिका है। बिना नाम लिए राउत पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि अगर किसी को लगता है कि दूसरों  के पार्टी की आलोचना करने से उनकी पार्टी बड़ी होगी तो उन्हें याद रखना चाहिए कि उनके पास भी पांच उंगलियां हैं। पटोले ने कहा कि मैं संजय राउत के बयान पर जवाब दे चुका हूं कि हमारी पार्टी राउत के बयान को गंभीरता से नहीं लेती। बतादें कि रविवार को शिवसेना के मुखपत्र सामना के माध्यम से संजय राउत ने कांग्रेस पर निशाना साधा था, जिसमे उन्होने पश्चिम बंगाल में कांग्रेस पार्टी को मिली हार पर सवाल उठाते हुए आगामी 2024 के लोकसभा चुनाव में राकांपा प्रमुख शरद पवार या ममता बनर्जी के नेतृत्व में तीसरा मोर्चा बनाने का जिक्र किया था, राउत ने कहा था कि भविष्य को देखते हुए  देश में एक मजबूत विपक्षी मोर्चा बनाना आवश्यक है। जिसे लेकर हमने  शरद पवार के साथ चर्चा की है। राउत के इस बयान से नाराज कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष ने राउत को जमकर लताड़ा और कहा कि उन्हें हम गंभीरता से नहीं लेते। गौरतलब है कि राज्य में बनी शिवसेना के नेतृत्व वाली महाविकास आघाडी सरकार में कांग्रेस पार्टी सहयोगी दल की भूमिका निभा रही है ऐसे में  दोनों पार्टियों के नेताओं के बीच शुरू वाकयुद्ध से  सरकार की गठबंधन पर असर पड़ सकता है।


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget