सख्त लॉकडाउन से बेहतर परिणाम

 दूसरी लहर भी उतार पर   |  कमिश्नर चहल की हो रही तारीफ

iqbal singh chahal

मुंबई

कोहराम मचाने वाली कोरोना महामारी की दूसरी लहर भी अब मुंबई में उतार की ओर है। मात्र एक महीने कोरोना से सकर्मित  दो लाख से अधिक मरीजों ने कोरोना को परास्त किया, जबकि एक वर्ष में छह लाख लोग ठीक हो चुके हैं।

उल्लेखनीय है कि 15 फरवरी के बाद मरीजों की संख्या दिन दूनी - रात चौगुनी की गति से बढ़ रही थी। रोजाना नौ से 11 हजार मरीज मिल रहे थे, लेकिन पांच अप्रैल से मुंबई सहित पूरे राज्य में सख्त लॉकडाउन की घोषणा की गई। लॉकडाउन के महीने भर बाद मरीजों की संख्या में गिरावट आने लगी। नए मरीजों की अपेक्षा ठीक होने वाले मरीजों की संख्या में वृद्धि हो रही है। चार अप्रैल से चार मई  के दौरान लगभग दो लाख 23 हजार 231 मरीजों ने कोरोना को हराया। 

नागपुर खंडपीठ ने की मनपा आयुक्त की तारीफ

कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए बीएमसी ने अपने अस्पतालों के साथ ही निजी अस्पतालों को भी कोविड के लिए तैयार किया। पांच जंबो कोविड सेंटर बनाने गए, समय पर उपचार मिलने से मरीज ठीक होने लगे। बीएमसी की तरफ से बनाए गए कोरोना केयर सेंटरों के साथ क्वारंटाइन सेंटरों में मरीजों को भी बढ़िया खान उपलब्ध कराया गया, डॉक्टरों सहित अन्य उनके स्टाफ की तैनाती कर मरीजों की बेहतर देख भाल भी कोरोना को हराने में मदद मिली। कोरोना नियंत्रण में करने के लिए मनपा आयुक्त  इकबाल सिंह चहल की तरफ से चलाई जा रही योजनाओं की तारीफ मुंबई हाईकोर्ट की नागपुर खंडपीठ ने भी की है। कोरोना पर स्व: संज्ञान लेकर दायर किए गए पीएलएल की सुनवाई के बाद जारी किए गए आदेश में बीएमसी और इकबाल सिंह चहल की स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने की तारीफ की है।

सुप्रीम कोर्ट ने मनपा  की थापथपाई  पीठ

सुप्रीम कोर्ट में भी सॉलीसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि मैं मुंबई मॉडल की प्रशंसा करता हूं।  वह कोई रानीतिक मॉडल नहीं है। 10 अप्रैल को मुंबई और दिल्ली में 92000 एक्टिव मरीज थे, दोनों जगह कोमोबस समान ऑक्सीजन की जरूरत थी,लेकिन दिल्ली की स्थिति अब भी ठीक नहीं है।  इस पर जस्टिस चंद्रचूड ने मुंबई महानगरपालिका की प्रशंसा करते हुए कहा कोरोना रोकने के लिए इकबाल सिंह चहल के मार्गदर्शन में हो रहे कार्य से मुंबई से रोज अच्छी खबरें आ रही हैं। 


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget