कोरोना से घरेलू अर्थव्‍यवस्‍था को भारी चोट

बैंकों से कई गुना ज्‍यादा रुपए निकाल रहे लोग

पटना

 कोरोना अब बैंकों की अर्थव्यवस्था पर भी कहर बरपा रहा है। महामारी से सहमे लोग निकासी ज्यादा कर रहे हैं और यहां तक कि सावधि जमा (फिक्स डिपॉजिट) पूंजी भी तोड़ रहे हैं। बैंकों में जमा राशि में भी कमी आई है। जानकारों का कहना है कि निकासी और जमा का अनुपात 30-70 का हो गया है। बैंकों से ताजा आंकड़े अभी नहीं मिले हैं पर दिसंबर से मार्च तक के आंकड़े चौंकाने वाले हैं। नए साल की पहली तिमाही की रिपोर्ट आने पर स्थिति और साफ होगी। यह अंतर बढ़ सकता है। वहीं बिहार में भी मार्च तक बैंकों में जमा राशि में तकरीबन 16 फीसदी की कमी आई है। बताया जाता है कि कोरोना संक्रमण का ग्राफ चढ़ने के साथ बैंकों से निकासी भी बढ़ गई है। रिजर्व बैंक के साप्ताहिक डाटा से ज्ञात होता है कि कोरोना काल में बैंकों से उपभोक्ता बड़े पैमाने पर जमा राशि निकाल रहे हैं। शुरुआत में तो वे अपने बचत व चालू खातों (डिमांड डिपॉजिट्स) से पैसे की निकासी करते रहे परंतु अब फिक्स डिपॉजिट भी तोड़कर पैसे निकालने लगे हैं। रिजर्व बैंक के राष्ट्रीय स्तर पर जारी आंकड़ों को देखें तो 26 मार्च से 9 अप्रैल के बीच केवल डिमांड डिपॉजिट यानि बचत और चालू खातों में जमा राशि में 116655 करोड़ की कमी आई। 


Labels:

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget