कोरोना की दवा 'क्लेविरा' को सरकार ने दी मान्यता

clevira syrup

नई दिल्ली

चिकित्सा जगत में अग्रणी शोध और नवीनीकरण के लिए प्रसिद्ध चेन्नई स्थित फार्मासियुटिकल कंपनी एपेक्स लैबोरेटरी प्राइवेट लिमिटेड द्वारा कोरोना संक्रमण के हल्के से मध्यम सहायक इलाज के लिए एंटीवायरल हर्बल फामुलेशन क्लेविरा पेश किया गया है। इस फार्मुलेशन की सहायता से इलाज के पांचवें दिन 86 प्रतिशत और दसवें दिन 100 प्रतिशत स्वास्थ्य लाभ देखा गया। यह किडनी और लीवर के मरीजों के लिए भी सुरक्षित है। इसे फ्रंट लाइन वर्कर और रोगी की देखभाल करने वाले स्वास्थ्य कर्मियों के रोगनिरोधी इलाज के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है। क्लेविरा एंटीवायरल औषधि को भारत सरकार के नियामक ने कोरोना संक्रमण के हल्के से मध्यम सहायक इलाज के लिए प्रमाणित किया गया है। प्रारंभिक चरण में क्लेविरा को 2017 में डेंगू के मरीजों के इलाज के लिए विकसित किया गया था। बीते साल जब देश में कोरोना के बढ़ते हुए मरीजों को देखा गया, तो फार्मुलेशन को दोबारा कोविड मरीजों के सहायक इलाज के तौर पर कोविड के लक्षणों को हल्के से मध्यम पर लाने के लिए तैयार किया गया। यह उत्पाद देशभर में हर जगह उपलब्ध है और 11 रुपए प्रति टेबलेट इसका शुल्क रखा गया है। क्लेविरा को बनाने के लिए 100 लोगों पर क्लीनिकल परीक्षण किया गया, मई- जून 2020 में किए गए परीक्षण के परिणाम काफी सकारात्मक देखे गए। 


Labels:

Post a comment

[blogger]

MKRdezign

Contact form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget