कर्नाटक में 'आईसीयू ऑन व्हील्स' और 'ऑक्सीजन ऑन व्हील्स'


बेंगलुरु

कोरोना के संकट काल में कर्नाटक राज्य सड़क परिवहन निगम (केएसआरटीसी) ने दूरस्थ इलाकों में कोविड-19 मरीजों के उपचार में मदद करने के लिए बुधवार को 'आईसीयू ऑन व्हील्स और 'ऑक्सीजन ऑन व्हील्स नामक दो परियोजनाएं शुरू की। इन परियोजनाओं के तहत ऐसी बसों का प्रबंध किया गया है, जिनमें ऑक्सीजन प्रणाली, मरीज के रक्तचाप, ऑक्सीजन की मात्रा, ईसीजी एवं तापमान पर नजर रखने के लिए मॉनिटर, वेंटिलेटर, आपातकालीन चिकित्सा प्रणाली और जनरेटर प्रणाली की सुविधा है। परिवहन मंत्रालय का कार्यभार संभाल रहे उप मुख्यमंत्री लक्ष्मण सावदी ने कहा कि केएसआरटीसी ने 10 लाख रुपए की अनुमानित लागत पर इन बसों की व्यवस्था की है और परिवहन विभाग इसकी पूरी लागत वहन करेगा। उन्होंने बताया कि ऑक्सीजन की आपूर्ति करने वाली 12 से अधिक बसें पहले ही चलाई जा रही हैं। इनमें से दो बसों में एम्बुलेंस की तरह चिकित्सकीय उपकरण हैं। कर्नाटक महामारी की दूसरी लहर से जूझ रहा है, ऐसे में मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने बुधवार को उन लोगों के लिए 1,250 करोड़ रुपए के राहत पैकेज की घोषणा की, जिनकी आजीविका कोविड-19 के कारण लगे लॉकडाउन से प्रभावित हुई है। 

मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि वर्तमान लॉकडाउन को 24 मई को समाप्त होने से कुछ दिन पहले आगे बढ़ाने पर निर्णय लिया जाएगा। येदियुरप्पा ने कहा, हमारी सरकार ने कोविड की पहली लहर के दौरान विभिन्न क्षेत्रों को वित्तीय पैकेज दिए थे। उन्होंने कहा, मौजूदा प्रतिबंधों ने असंगठित क्षेत्र और किसानों की आजीविका को प्रभावित किया है, इसके प्रभाव को कम करने के लिए हम 1,250 करोड़ रुपये से अधिक के राहत पैकेज की घोषणा कर रहे हैं।


Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget