केरल की गौरी अम्मा का निधन

gauri amma

तिरुअनंतपुरम

केरल की राजनीति में आयरन लेडी के नाम से जानी जाने वाली गौरी अम्मा ने 102 वर्ष की उम्र में एक प्राइवेट अस्पताल में अंतिम सांस ली। अम्मा 1957 में दुनिया की पहली लोकतांत्रिक तौर पर निर्वाचित कम्युनिस्ट सरकार के मंत्रिमंडल की सदस्य थीं । मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने दिवंगत गौरी अम्मा को श्रद्धांजलि दी और उन्हें एक साहसी योद्धा बताया। ट्वीट कर मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने अपना जीवन शोषण व अत्याचार को खत्म करने व बेहतर समाज की स्थापना करने में लगाया। 14 जुलाई 1919 में केरल के अलाप्पुझा जिले के पट्टानक्कड़ में जन्मी गौरी अम्मा ने तिरुवनंतपुरम स्थित गवर्नमेंट लॉ कॉलेज से कानून की पढ़ाई पूरी की। केरल की पहली विधानसभा से शुरुआत करने वाली गौरी अम्मा 1977 में हार गई थीं। लेकिन अगले चुनाव में जीत कर आई और वर्ष 2006 तक विधायक रहीं। उन्होंने विभिन्न सरकारों में मंत्री के रूप में कार्य किया।

Post a Comment

[blogger]

MKRdezign

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget